गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने छात्रों से कहा- आपके मन का भाव अच्छा होना चाहिए

नई दिल्ली। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आगरा के डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के 84वें दीक्षांत समारोह में कहा कि कहा कि बिना संस्कार के किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व का समग्र विकास संभव नहीं हो सकता है।

Home Minister Rajnath Singh
Home Minister Rajnath Singh

भारत वर्ष 2030 तक विश्व की तीसरी महाशक्ति बन जाएगा, देश 2014 में 9वें नंबर पर था, अब छठे पर है, देश धनवान हो रहा है। झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोग भी देश की अर्थव्यवस्था में सहयोग दें, इसकी व्यवस्था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं। पीएम मोदी ने दुनियाभर में हिंदी का मान बढ़ाया है। दुनिया हमारी नकल करके खुद को महान बताती है। सारे महत्वपूर्ण सिद्धांत हमारे ऋषि मुनियों ने दिए हैं।

गृहमंत्रीसिंह ने कहा हर दीक्षांत समारोह में बच्चों से कहता हूं कि संस्कार, मूल्य और मनोभाव को ठीक करके रखना। ये प्रयत्न आपके द्वारा निरंतर करते
रहना चाहिए। मैं जानता हूं पढ़ाई के बाद आपकी इच्छा होगी शानदार नौकरी मिले। अच्छा वेतन हो, शानदार मकान मिले। सब मिलाकर अच्छा पैकेज मिले।

गृहमंत्री ने कहा कि लेकिन, जीवन में सिर्फ इतना ही नहीं है। उन्होंने न्यूयार्क का सबसे ऊंचा वर्ड ट्रेड सेंटर की याद दिलाई। कहा कि एक व्यक्ति पढ़ा लिखा था, जिसका अच्छा कैरियर और अच्छा पैकेज था। उसने हवाई जहाज उड़ाते उड़ाते अपने को मौत के अंधेरे में डाल दिया और हजारों को मौत के नींद सुला दी।

सब कुछ होने के बाद भी उसने ऐसा क्यों किया, क्योंकि उसका मनोभाव ठीक नहीं था। बुद्धि से विचार पैदा नहीं होते हैं। मन और मनोभाव से ही विचार पैदा होते हैं। बुद्धि को गाइड करने का कोई काम करता है, तो वह मन और मनोभाव है। आपके मन का भाव अच्छा होना चाहिए।

इस मौके पर राज्यपाल राम नाईक ने कहा पढ़ाई में लड़कियों ने लड़कों को पछाड़ दिया है। स्नातक करने के साथ मेडल पाने में लड़कियां बहुत आगे निकल गई हैं। विश्वविद्यालय में भी तेजी से सुधार हुआ है।

उन्होंने पढ़ाई के लिए शिक्षक की जिम्मेदारी से लेकर छात्रों को नियमित कक्षा में आने तक की समझाइश दी।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *