Riverside यूनिवर्सिटी व संस्कृति विवि के बीच ऐतिहासिक समझौता

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय और अमेरिका की ख्यातिप्राप्त यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया रिवरसाइड ने मिलकर शिक्षा के क्षेत्र में ऐतिहासिक कदम उठाया है। दोनों विश्वविद्यालयों के मध्य हुए द्विपक्षीय समझौते के तहत शैक्षणिक आदान-प्रदान के साथ छात्रों को विदेश में अध्ययन का भी मौका मिलेगा। अमेरिका से मंगलवार को आए University of California, Riverside के प्रतिनिधिमंडल ने संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति सचिन गुप्ता को अपने विश्वविद्यालय में आगमन का न्योता देते हुए इस द्विपक्षीय समझौते को शैक्षिक दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण बताया।

इस द्विपक्षीय समझौते के तहत संस्कृति विश्विवद्यालय के छात्र उच्च शिक्षा के लिए अमेरिका जा सकते हैं। इसके अलावा उन्हें कैलिफोर्निया रिवरसाइड विश्वविद्यालय से पीएच.डी करने एवं स्नातकोत्तर कक्षाओं में अध्ययन करने का भी मौका मिल सकेगा।

इस मौके पर इस द्विपक्षीय समझौते के प्रति हर्ष व्यक्त करते हुए संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने कहा कि आज के दौर में शिक्षा के क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन हो रहे हैं। नए और उपयोगी पाठ्यक्रमों का सृजन हो रहा है। ये पाठ्यक्रम छात्र-छात्राओं के लिए नए-नए क्षेत्रों में अवसर प्रदान कर रहे हैं। शिक्षा के क्षेत्र में रोजगार प्रदान करने वाले इन उपयोगी पाठ्यक्रमों और विषयों के क्षेत्र में हमारे छात्र-छात्राएं पीछे न रहें, इस दृष्टि से यह समझौता बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि 1960 में स्थापित कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी रिवरसाइड ने उच्च शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी आयाम स्थापित किए हैं। इस विश्वविद्यालय के सहयोग से संस्कृति विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं के लिए उच्च शिक्षा और शोध के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं।

उप कुलाधिपति राजेश गुप्ता ने कहा कि हमारे ब्रज क्षेत्र में अनेक प्रतिभाएं हैं, अवसर न मिल पाने के कारण ये प्रतिभाएं दबी रह जाती हैं। अब ऐसा नहीं होगा। कैलिफोर्निया रिवरसाइड विश्वविद्यालय के सहयोग से अपने यहां विश्वस्तरीय प्रोफेशनल तैयार करने में अब मदद मिल सकेगी। विश्वविद्यालय की ओएसडी श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने कहा कि इस अंतर्राष्ट्रीय समझौते से उच्च शिक्षा के अंतर्राष्ट्रीयकरण का मार्ग प्रशस्त होगा । कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर पीसी छाबड़ा ने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि अमेरिका के उच्च रैंकिंग प्राप्त विश्वविद्यालय से हुए समझौते से संस्कृति विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को ज्ञान और कौशल में वृद्दि करने के स्वर्णिम अवसर प्राप्त होंगे। कुलपति डा.राना सिंह ने कहा कि तेजी से बदलते वैश्विक परिदृश्य में विश्वस्तरीय विश्वविद्यालय से समझौते के तहत शोध और उच्च शिक्षा के क्षेत्र में त्वरित गति से गुणात्मक एवं मात्रात्मक सुधार संभव हो सकेगा।

कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी रिवरसाइड से यह महत्वपूर्ण समझौता करने वाले प्रतिनिधिमंडल में एसोसिएट डीन, अकेडमिक अफेयर मार्को प्रिंसेवाक, एक्सीक्यूटिव वाइस चांसलर एवं असिस्टेंट प्रवोस्ट जुन वैंग के अलावा जेएचके डिस्ट्रीब्यूशन इंक कंपनी के संस्थापक सीईओ हैरी कुरानी और एआरवी ग्लोबल कंसल्टेंसी के अकेडमिक ग्रुप पार्टनर अमित अग्रवाल मौजूद रहे।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *