सर्जरी से 98 वर्षीय बुजुर्ग के चेहरे पर लौटी मुस्कान

मथुरा। KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के हड्डी रोग विशेषज्ञ प्रो. (डॉ.) विक्रम शर्मा, डॉ. विवेक चांडक और डॉ. निखिल गुप्ता ने गोवर्धन निवासी 98 वर्षीय बाबा तुलसी दास के टूटे कूल्हे की हेमीआर्थोप्लास्टी कर उनकी उम्मीदों को पुनः जिन्दा कर दिया है। हेमीआर्थोप्लास्टी सर्जरी के बाद बाबा तुलसी दास को न केवल दर्द से निजात मिल गई है बल्कि अब वह पहले की तरह भजन-पूजन आदि भी करने लगे हैं।

ज्ञातव्य है कि 28 दिसम्बर 2020 को बाबा तुलसी दास आश्रम में कुर्सी से गिर गए और उनका कूल्हा टूट गया। कूल्हा टूटने के बाद वह दर्द की वजह से सो भी नहीं पा रहे थे। दर्द से कराहते बाबा की परेशानी को देखते हुए आखिरकार उनके शिष्य उन्हें के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. विवेक चांडक के पास लाए। डॉ. चांडक ने बाबा की कुछ जांचें कराईं जिनसे पता चला कि उनका कूल्हा टूट गया है। प्रमुख जांचों का अवलोकन करने के बाद चिकित्सकों द्वारा बाबा तुलसी दास के कूल्हे की हेमीआर्थोप्लास्टी करने की सलाह दी गई।

शिष्यों की स्वीकृति के बाद 11 जनवरी को हड्डी रोग विशेषज्ञ प्रो (डॉ.) विक्रम शर्मा, डॉ. विवेक चांडक, डॉ. निखिल गुप्ता तथा निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. दीपक अग्रवाल के सहयोग से बाबा दुलसी दास की हेमीआर्थोप्लास्टी सर्जरी की गई। डॉ. विवेक चांडक का कहना है कि इस सर्जरी को मेडिकल भाषा में हेमीआर्थोप्लास्टी कहा जाता है। अब बाबा तुलसी दास पूरी तरह से स्वस्थ हैं तथा बिना सहारे के चल-फिर पा रहे हैं। बाबा के शिष्यों ने सफल सर्जरी के लिए KD हॉस्पिटल के चिकित्सकों और प्रबंधन का आभार माना है।

आर. के. एजुकेशन हब के अध्यक्ष डाॅ. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल, डीन डाॅ. रामकुमार अशोका, चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. राजेन्द्र कुमार ने बाबा तुलसी दास की सफल सर्जरी के लिए चिकित्सकों की टीम को बधाई दी है।

– Legend news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *