सुवेंदु के निर्वाचन को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई स्‍थगित

कोलकाता। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने नंदीग्राम से सुवेंदु अधिकारी के चुनाव को अमान्य घोषित करने के अनुरोध वाली मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की याचिका पर सुनवाई अगले सप्ताह गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दी है। चुनाव आयोग ने नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र से अधिकारी को विजेता और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष बनर्जी को उपविजेता घोषित किया था।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सुवेंदु अधिकारी से नंदीग्राम में हुई हार स्वीकार करने को तैयार नहीं है। इसके खिलाफ कलकत्ता उच्च न्यायालय में एक चुनावी याचिका दायर की है। इस मामले को लेकर न्यायमूर्ति कौशिक चंद की अदालत के समक्ष वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सुनवाई हुई।
ममता ने हार के बाद खटखटाया था कोर्ट का दरवाजा
ममता बनर्जी ने ईवीएम मशीनों से छेड़छाड़ और चुनाव आयोग के संबंधित अधिकारी द्वारा दोबारा मतगणना की मांग को ठुकराने का आरोप लगाते हुए नतीजों की घोषणा के बाद कहा था कि इस मुद्दे को लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया जाएगा। बीजेपी विधायक अधिकारी वर्तमान समय में पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं।
बंगाल में बंपर जीत लेकिन नंदीग्राम हार गई थीं ममता
सुवेंदु को जहां एक लाख 10 हजार 764 वोट मिले थे। वहीं ममता के खाते में एक लाख 8 हजार 808 वोट पड़े थे। ममता 1956 वोट के अंतर से चुनाव हार गई थीं। वहीं बंगाल चुनाव में टीएमसी ने ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। टीएमसी ने 213, बीजेपी ने 77 और अन्य ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी। हालांकि ममता बनर्जी को नंदीग्राम सीट से हार का सामना करना पड़ा था।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *