हरियाणा के सीएम की आंदोलनकारी किसानों को नसीहत, संयम की परीक्षा न लें

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुधवार को आंदोलनकारी किसानों को बड़ी नसीहत दी है। उन्होंने हरियाणा निवास में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि धरने पर बैठे लोग अपनी हदें पार न करें। कानून हाथ में लेने पर सरकार कड़ी कार्यवाही से भी गुरेज नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि अब किसान आंदोलन गलत हाथों में जा चुका है। किसानों के नाम पर राजनीति हो रही है। जिस तरह से आंदोलन में अनैतिक घटनाएं सामने आ रही हैं, उससे किसानों की छवि खराब हो रही है।

उन्होंने कहा कि आंदोलनकारी हमारे संयम की परीक्षा न लें। किसानों का वह बहुत सम्मान करते हैं। यह बहुत ही सम्मानित शब्द है। किसी बात को लेकर हठ पकड़ना उचित नहीं। जब धैर्य टूटता है तो उसके बाद टकराव होता है। केंद्र और हरियाणा सरकार किसानों के उत्थान के लिए काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री से मुलाकात हुई थी। उन्होंने किसान आंदोलन के कारण बंद टोल को खुलवाने पर चर्चा की। इस पर उन्हें बताया कि हमने केएमपी के अपने तीन टोल खुलवा लिए हैं। एनएच के टोल खुलवाने के लिए केंद्र सरकार कदम उठाए। गडकरी ने जल्दी उचित कदम उठाने का आश्वासन दिया है।
एप व पोर्टल किया लॉन्‍च
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुधवार को ‘जनसहायक-आपका सहायक’ एप स्वामित्व योजना का पोर्टल लांच किया। जनसहायक एप से घर बैठे कई सुविधाएं मिलेंगी। एप के माध्यम से नागरिक भी सुझाव दे सकेंगे। स्वामित्व योजना पोर्टल शहरी निकाय विभाग के लिए बनाया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनसहायक एप सरकार का गेट वे है। एप हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में उपलब्ध है। एप से सर्टिफिकेट संबंधित सारी सुविधाएं मिलेंगी। एप में सीएम विंडो की भी सुविधा है। सरकार से जुड़ी कार्ययोजना, कार्यक्रम, जनसेवाएं, आपता सेवा, नौकरी से संबंधित सभी जानकारी इससे मिलेगी। कल से स्वामित्व पोर्टल शुरू हो जाएगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *