हरीश रावत को कांग्रेसी “मगरमच्छों” के नाम बताने चाहिए: तीरथ सिंह रावत

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के कांग्रेस पर ही निशाना साधने वाले ट्वीट पर बीजेपी ने कहा है कि कांग्रेस का बिखराव साफ दिख रहा है। बीजेपी नेता और उत्तराखंड के पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि हरीश रावत को कांग्रेस के अंदर के “मगरमच्छों” के नाम बताने चाहिए।
हरीश रावत ने ट्वीट किया कि “चुनाव रूपी समुद्र, है न अजीब सी बात, चुनाव रूपी समुद्र को तैरना है, सहयोग के लिए संगठन का ढांचा अधिकांश स्थानों पर सहयोग का हाथ आगे बढ़ाने के बजाय या तो मुंह फेर करके खड़ा हो जा रहा है या नकारात्मक भूमिका निभा रहा है। जिस समुद्र में तैरना है, सत्ता ने वहां कई मगरमच्छ छोड़ रखे हैं। जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पांव बांध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि हरीश रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिये, अब विश्राम का समय है! फिर चुपके से मन के एक कोने से आवाज उठ रही है “न दैन्यं न पलायनम्” बड़ी उपापोह की स्थिति में हूं, नया वर्ष शायद रास्ता दिखा दे। मुझे विश्वास है कि भगवान केदारनाथ जी इस स्थिति में मेरा मार्गदर्शन करेंगे।”
इस ट्वीट बीजेपी नेता और उत्तराखंड के पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत ने एनबीटी से बात करते हुए कहा कि हरीश रावत जी हमारे बड़े भाई हैं। वे कांग्रेस के बड़े नेता है। उत्तराखण्ड में सीएम रहे, केंद्र में मंत्री रहे। लेकिन आज जिस तरह से कांग्रेस में उनकी हालत दिख रही है, और जो वे बयां कर रहे हैं, उससे लगता है कि कांग्रेस की हालत ठीक नहीं है। कांग्रेस बीमार हालत में है और अपने आप में उनका बिखराव है। तीरथ सिंह रावत ने कहा कि जो अपने बड़े नेता का सम्मान न कर पाए वह और का क्या सम्मान करेंगे, वह जनता को क्या इज्जत दे पाएंगे। वे उत्तराखंड या देश का क्या भला कर पाएंगे?
बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस में बुरी तरह बिखराव साफ दिखता है। इसका लाभ निश्चित तौर पर बीजेपी को मिलेगा और बीजेपी फिर अपना परचम लहराएगी। एनबीटी के यह पूछने पर कि हरीश रावत ने कांग्रेस के अंदर मगरमच्छों का जिक्र किया है, कौन हैं ये मगरमच्छ? तीरथ सिंह रावत ने कहा कि ये उनका अंदरूनी मामला है। ये तो वही बता सकते हैं। लेकिन अगर हरीश रावत को ये लगता है तो उन्हें उनके नाम भी बता देने चाहिए।
क्या बीजेपी की तरफ से उनसे बात करने की जरा भी संभावना है? इस सवाल पर बीजेपी नेता ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। बीजेपी अपनी विचारधारा पर चलती है और विकास की बात करती है। मोदी जी ने जो विकास किया है, उसी को लेकर हम जनता के पास जा रहे हैं। सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास। सबको विश्वास में लेते हुए हम आगे बढ़ेंगे। इन्हीं विकास कामों को देखते हुए जनता फिर बीजेपी को चुनेगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *