राजीव एकेडमी में हुआ इंटेग्रिटी वे ऑफ लाइफ पर Guest lecture

मथुरा। राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट के MBA और MCA विभाग द्वारा इंटेग्रिटी वे ऑफ लाइफ पर Guest lecture का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता ओरियण्टल बैंक आफ कॉमर्स के क्लस्टर हेड अंकित शर्मा ने छात्र-छात्राओं को ईमानदारी और उत्तरदायित्वपूर्ण जीवन जीने की शपथ दिलाने के साथ उन्हें महात्मा गांधी के जीवन से प्रेरणा लेने की सीख दी।

श्री शर्मा ने कहा कि अभिभावकों द्वारा बचपन से ही अपने बच्चों को अनुशासित और ईमानदारी पूर्वक जीवन जीने की शिक्षा दी जाती है फिर भी वे गलती कर देते हैं। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी को शिक्षक द्वारा गलती छुपाने को कहा गया था फिर भी सत्य के पुजारी ने स्पष्ट रूप से स्वयं की गलती को ईमानदारी से स्वीकार लिया। आज के समय में हम अपनी गलतियां सुधारने की बजाय उन्हें छुपा लेते हैं जो कि कतई उचित नहीं है।

श्री शर्मा ने विद्यार्थियों से कहा कि यदि किसी के साथ आप धोखेबाजी करेंगे तो भविष्य में आपके साथ भी धोखेबाजी जरूर होगी और जब आपके साथ ऐसा व्यवहार होगा तो आप दुखी होंगे। अतः जो व्यवहार आपको स्वयं के साथ अच्छा नहीं लगता वह व्यवहार आप दूसरों के साथ कतई न करें। श्री शर्मा ने बताया कि आजकल बैंकों में फ्रॉड हो रहा है जिसे रोकने और उससे बचने के लिए भारत सरकार ने कई ऐप बनाए हैं जिनके प्रयोग से हम समय रहते फ्रॉड से बच सकते हैं। श्री शर्मा ने छात्र-छात्राओं को बैंकिंग फ्रॉड से बचने के के तौर-तरीकों से अवगत कराया।

आर के एजुकेशन हब के अध्यक्ष डाॅ. रामकिशोर अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं को अपने संदेश में कहा कि सत्य और ईमानदारी से हम हर लक्ष्य हासिल कर सकते हैं लिहाजा सफलता के लिए शार्ट-कट रास्ते का चयन कतई न करें। चेयरमैन मनोज अग्रवाल ने कहा कि अनुशासन और ईमानदार प्रयासों से हासिल की गई सफलता आत्म-संतोष बढ़ाती है लिहाजा हमें अपने लक्ष्य हासिल करने के लिए ईमानदारी से मेहनत करनी चाहिए। संस्थान के निदेशक डाॅ. अमर कुमार सक्सेना ने अतिथि वक्ता का स्वागत किया।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *