गोरखपुर: फिरौती के लिए अगवा छात्र की हत्‍या, शव बरामद

गोरखपुर। फिरौती के लिए अगवा छात्र का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है। पिपराइच इलाके में तिनकोनिया नंबर दो में केवटहिया नाले के पास शव मिला है। इस संबंध में चार लोग उठाए गए हैं। उन्‍हीं की निशानदेही पर शव बरामद किया गया है।
उल्‍लेखनीय है कि पिपराइच इलाके के जंगल छत्रधारी, टोला मिश्रौलिया से रविवार को पांचवीं के छात्र बलराम गुप्त को अगवा कर एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई थी। शाम पांच बजे परिजनों के सूचना देने के बाद बच्चे की तलाश में पिपराइच पुलिस और क्राइम ब्रांच के साथ ही एसटीएफ को भी लगी हुई थी। जंगल धूसड़ से मुर्गा कारोबारी, मोबाइल सिम बेचने वाले दुकानदार और एक प्रापर्टी डीलर को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही थी। बलराम के साथ अक्सर खेलने वाले उसके दोस्तों से भी घटना के बारे में जानकारी ली गई थी।
ये था घटनाक्रम
जंगल छत्रधारी गांव के मिश्रौलिया टोला निवासी महाजन गुप्त, घर में ही किराना दुकान चलाते हैं। वे जमीन के कारोबार से भी जुड़े हैं। उनका बेटा बलराम रविवार को दोपहर 12 बजे के आसपास खाना खाने के बाद टीशर्ट और पैंट पहनकर दोस्तों के साथ खेलने निकला था। उसके बाद से घर नहीं लौटा। तीन बजे महाजन गुप्त के मोबाइल पर अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि बलराम का अपहरण कर लिया गया है। उसे छुड़ाने के लिए एक करोड़ रुपये का इंतजाम करने की बात कह उसने फोन काट दिया। महाजन ने पलट कर उस नंबर पर फोन किया तो मोबाइल स्विच आफ मिला लेकिन थोड़ी देर बाद 10-10 मिनट के अंतराल पर उसी नंबर से दो बार फोन आया। महाजन को बेटे के अगवा होने की बात पर भरोसा नहीं हो रहा था इसलिए उन्होंने पहले गांव में उसकी तलाश की। पता न चलने पर लोगों को बेटे के अपहरण और फिरौती के लिए आए फोन की जानकारी दी। शाम पांच बजे 112 नंबर पर फोन कर उन्होंने पुलिस को सूचना दी। कुछ ही देर में क्षेत्राधिकारी चौरीचौरा रचना मिश्रा के अलावा पिपराइच और गुलरिहा थाने की पुलिस तथा क्राइम ब्रांच तथा एसटीएफ गोरखपुर की टीम मौके पर पहुंच गई।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *