केडी हास्पीटल और Polyclinic में पाएं बेहतरीन इलाज-डा. रामकिशोर

केडी हास्पीटल Polyclinic ने घुटने सीधे कर दी दीपक को चलने की ‘आजादी‘

केडी हास्पीटल Polyclinic के चिकित्सक और एमएस में गोल्ड मेडलिस्ट डा. प्रतीक अग्रवाल ने काफी टेडे दोनों पैरों को सीधाकर दीपक को चलाया

मथुरा। केडी हास्पीटल पाॅलीक्लीनिक के चिकित्सक डा. प्रतीक अग्रवाल ने मरीज दीपक के घुटनों से काफी टेडे हुए दोनों पैरों को सीधा कर दिया है। उन्होंने आॅपरेशन के दौरान घुटनों में टेडेपन की वजह से दोनों घुटनों की टिबिया की मीडियल साइड की टूटी हड्डी को आॅपरेशन के द्वारा ग्राफ्ट और पेच के द्वारा चलने लाइक और क्रियाशील बना दिया है। इससे चलने-फिरने में अपाहिज हुआ मरीज अब अपने पैरों पर चल रहा है। कई चिकित्सालयों में ज्यादा खर्च के चलते इलाज कराने से नाकाम होकर लौटे मरीज दीपक शर्मा ने केडी हास्पीटल पाॅलीक्लीनिक के प्रति कम खर्च पर इलाज करने के लिए आभार जताया है।

मल्टी स्पेशियेलिटी केडी हास्पीटल में भर्ती मरीज ने बताया कि तीन साल से घुटने लगातार हो रहे थे दूर, भयंकर दर्द पर खानी पड रहीं थीं पेन किलर

मल्टी स्पेशियेलिटी केडी हास्पीटल मथुरा के स्पेशल वार्ड में भर्ती मरीज दीपक ने बताया कि उसके तीन साल से घुटने लगातार एक-दूसरे से दूर होकर टेडे होते जा रहे थे। इनमें भयंकर दर्द के चलते उसे पेन किलर भी खानी पड रही थी। टेडे घुटनों की वजह से वह एक ओर झुककर ही चल पा रहा था। दोनों घुटनों के इलाज के लिए उसने आगरा, फरीदाबाद समेत कई नगरों में चिकित्सकों को दिखाया। हर जगह पांच से छह लाख रुपये की इलाज के लिए मांग की। मगर केडी हास्पीटल में मात्र पौने दो लाख रुपये में ही पूरा इलाज हो गया। अब मैं आॅपरेशन के बाद से ही पूरी तरह से चलने में सक्षम हो गया हूं। घुटनों के बीच की दूरी भी पूरी तरह से खत्म हो गई है। मरीज दीपक का आॅपरेशन करने वाली टीम में डा. प्रतीक अग्रवाल, विभागाध्यक्ष डा. प्रफुल्ल हिरोडे, डा. हेमराज सैनी, एनथिएस्ट डा. निजावन और सहायक पवन कुमार, घनश्याम, सोहित, शाहरुख ने सहयोग किया।

पाॅलीक्लीनिक में हड्डी रोगों का पाएं सम्पूर्ण इलाज-डा. प्रतीक अग्रवाल

केडी हास्पीटल पाॅलीक्लीनिक के चिकित्सक और एमएस में गोल्ड मेडलिस्ट डा. प्रतीक अग्रवाल ने बताया कि मरीज दीपक के पैरों की हड्डी टिबिया में रोड डाल कर मजबूती देनी पडी है। रोड डालने की वजह बताते हुए कहा कि इसके पडने के बाद पैर टिबिया के टूटे होने के बावजूद शरीर का बोझ उठा सकेगा। दोनों पैरों का आॅपरेशन करने में तीन घंटे से अधिक समय लगा। उन्होंने लोगों से अपील की कि हड्डी रोगों की हर समस्या का समाधान पाने के लिए दिल्ली या आगरा जाने के बजाय केडी हास्पीटल की ओपीडी में सम्पर्क करें।

आरके एजुकेशन हब के चैयरमेन डा. राम किशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल ने कहा कि केडी Polyclinic शहरी क्षेत्र के हर तबके की सुविधा के लिए खोली गई है। इसमें मरीज बीमारी का डाइग्नोज विशेषज्ञ चिकित्सकों से करा सकते है। इसके बाद वे चाहे तो मल्टी स्पेशियेलिटी केडी हास्पीटल में सम्पूर्ण इलाज करा सकते हैं। ब्रजवासियों को केडी हास्पीटल पाॅलीक्लीनिक और केडी हास्पीटल की ओर से दी जा रहीं विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुविधाओं का लाभ उठाना चाहिए।

  • Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *