जॉर्ज फ्लॉयड मर्डर: पुलिस अफसर डेरेक चॉविन हत्या का दोषी करार

मिनेपोलिस। बीते साल मई महीने में अमेरि‍की अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के मामले में पूर्व पुलिस अफसर डेरेक चॉविन को दोषी ठहराया गया है। उसकी सजा का ऐलान अगले दो महीने में किया जाएगा। माना जा रहा है कि चॉविन को अधिकतम 40 साल तक की जेल की सजा हो सकती है। चॉविन पर आरोप है कि उन्होंने 46 साल के फ्लॉयड की गर्दन पर 9 मिनट 29 सेकंड तक फ्लॉयड की गर्दन अपने घुटने से दबाई, जिससे उसकी मौत हो गई।

फैसले के बाद चॉविन की जमानत रद्द
6 श्वेत, 6 अश्वेत और एक मल्टीरेशियल जज की ज्यूरी ने करीब 10 घंटों की सुनवाई के बाद अपना फैसला सुनाया। चॉविन सभी मामलों में दोषी पाए गए हैं। कोर्ट की तरफ से फैसला सुनाए जाने के तुरंत बाद ही चॉविन की जमानत भी रद्द हो गई थी। इसके बाद उन्हें हथकड़ियों में ले जाया गया। फैसले के बाद फ्लॉयड के छोटे भाई फिलोनाइस ने कहा कि आज हम एक बार फिर सांस ले पा रहे हैं।

पिछले साल 25 मई को फ्लॉयड की मौत हुई थी
मिनेपोलिस में पिछले साल 25 मई को फ्लॉयड को पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था। इससे पहले पुलिस अफसर डेरेक चॉविन ने फ्लॉयड को सड़क पर दबोचा था और अपने घुटने से उसकी गर्दन को करीब आठ मिनट तक दबाए रखा था। फ्लॉयड के हाथों में हथकड़ी थी। इसमें 46 साल का जॉर्ज लगातार पुलिस अफसर से घुटना हटाने की गुहार लगाता रहा।

घटना का वीडियो भी वायरल हुआ। जिसमें उसने कहा, ‘आपका घुटना मेरे गर्दन पर है। मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं…।’’ धीरे-धीरे उसकी हरकत बंद हो जाती है। इसके बाद अफसर कहते हैं, ‘उठो और कार में बैठो’, तब उसकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। इस दौरान आस-पास काफी भीड़ जमा हुई। उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *