पुलवामा में दो भगौड़े SPO सहित 4 आतंकी ढेर, एके-47 व गोला-बारूद बरामद

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में पुलवामा के लासिपोरा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच कल गुरुवार दोपहर से जारी मुठभेड़ थी जिसमें आज शुक्रवार सुबह दो भगोड़े SPO (स्पेशल पुलिस ऑफिसर) सहित चार आतंकी मारे गए, वहीं एक आतंकी संग दो भगौड़े SPO को शुक्रवार सुबह घेराबंदी के दौरान मार गिराया गया। आतंकियों की पहचान पुलवामा में पंजरण इलाके के रहने वाले अशिक अहमद, पुलवामा में अरिहाल इलाके के इमरान अहमद व भगौड़े एसपीओं में पुलावामा के तुजान इलाके रहने वाले शब्बीर अहमद व शोपियां के रहने वाले सलमान खान के रूप में हुई है। इनके पास से हथियार व गोला बारूद बरामद हुआ है।

Four terrorist piles including two fugitive SPO, AK-47 and ammunition recovered in Pulwama
Four terrorist piles including two fugitive SPO, AK-47 and ammunition recovered in Pulwama

सुरक्षाबलों को पंजरान लस्सीपोरा इलाके में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी गुरुवार रात को ही मिल गई थी। इसके बाद राष्ट्रीय राइफल्स, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी), सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस ने जॉइंट ऑपरेशन शुरू किया था। आतंकियों के पास से एके-47 राइफल समेत भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया है।

गौरतलब है कि विगत दिवस गुरुवार दोपहर पुलवामा के पंजरण लासिपोरा इलाके में आतंकियों के छुपे होने की सूचना के बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया । इस दौरान आतंकियों ने खुद को घिरा देख सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी।

वहीं दूसरी तरफ इस मुठभेड़ के शुरू होते ही दो एसपीओ रायफल लेकर पुलिस लाइन से गायब हो गए जो बाद में आतंकियों के साथ मिलकर सुरक्षाबलों पर फायरिंग करने लगे, जिसमें सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को गुरुवार शाम को ही मार गिराया।

मारे गए चारों आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। इनके पास से भारी मात्रा में हथियार व गोला बारूद भी बरामद हुआ है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया है कि मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन से जुड़े हुए थे। सेना की राष्ट्रीय रायफल, सीआरपीएफ और एसओजी की संयुक्त टीम ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया।

कुलगाम में भी सर्च ऑपरेशन

सूत्रों के मुताबिक, सुरक्षाबलों ने गुरुवार रात को कुलगाम के बाटपोरा में भी सर्च ऑपरेशन शुरू किया। यहां आतंकियों की खोज में घरों की भी तलाशी ली जा रही है। इस बीच इलाके में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। उपद्रवियों से निपटने के लिए सेना की अतिरिक्त टुकड़ियां बुलाई गई हैं।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *