फुटबॉल: 1979 के बाद पहली बार महिला एशियाई कप की मेजबानी भारत को

नई दिल्‍ली। कोरोना की वजह से खेलों पर लगे विराम के बाद अब एक बार फिर से चीजें पटरी पर लौटने लगी हैं। दुनियाभर में खेलों की शुरुआत के बीच भारतीय फुटबॉल के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है।
एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) ने 1979 के बाद पहली बार 2022 महिला एशियाई कप की मेजबानी के अधिकार भारत को दिए हैं।

इस बात का फैसला एएफसी महिला फुटबॉल समिति की बैठक में किया गया। इससे पहले फरवरी में, एएफसी महिला फुटबॉल समिति ने भारत को मेजबान बनाने की सिफारिश की थी।
अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ को लिखे पत्र में एएफओ के महासचिव दातो विंडसर जॉन ने लिखा, ‘समिति ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ को एएफसी महिला एशियन कप 2022 फाइनल के लिए होस्टिंग के अधिकार देने का फैसला किया है।’
टूर्नामेंट का आयोजन साल 2022 के मध्य में होगा। इस दौरान कुल 12 टीमें हिस्सा लेंगी। आयोजक देश बनने के बाद भारत इस टूर्नामेंट के लिए अपने आप ही क्वालीफाई कर गया है। यह टूर्नामेंट 2023 फीफा महिला विश्व कप के लिए क्वॉलिफिकेशन टूर्नामेंट के रूप में भी काम करेगा।

गौरतलब है कि 1979 में जब इस टूर्नामेंट का आयोजन भारत में हुआ था तब मेजबान उप-विजेता रहा था।

बता दें कि भारत ने साल 2016 में एएफसी अंडर -16 चैंपियनशिप और 2017 में फीफा अंडर -17 विश्व कप की मेजबानी भी कर चुका है और और 2021 में फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप की मेजबानी करने को तैयार।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *