भारत के बाहर बनने जा रही है पहली YOGA यूनिवर्सिटी

वाशिंगटन। योगा को बढ़ावा देने के लिए भारत के बाहर पहली YOGA यूनिवर्सिटी बनने जा रही है। इस यूनिवर्सिटी में अगले साल से कक्षाएं शुरू होंगी। इस यूनीवर्सिटी की स्थापना अमेरिका में शोध करने के बाद की जा रही है। यूनिवर्सिटी में एडमिशन प्रक्रिया इस साल अप्रैल महीने में शुरू हो जाएगी। विवेकानंद YOGA यूनीवर्सिटी की तरफ से योगा यूनीवर्सिटी की स्थापना के लिए Los Angeles में शुरूआती स्तर पर कैंपस बना दिया गया है।
Case Western University के प्रोफेसर श्री श्रीनाथ को इस यूनीवर्सिटी का अध्यक्ष चुना गया है जबिक इंडियन YOGA गुरू एच आर नागेंद्र को चैयरमैन चुना गया है। यूनिवर्सिटी स्थापना का कार्य इस साल अगस्त 2020 तक शुरू होगा जबकि अप्रैल महीने में योगा में मास्टर कोर्स करने के लिए एडमिशन शुरू हो जाएगा।
ब्यूरो ऑफ प्राइवेट पोस्टकॉन्डरी एजुकेशन, कैलिफोर्निया से आधिकारिक मान्यता प्राप्त करने के तीन महीने के भीतर YOGA यूनिवर्सिटी शुरू करने का फैसला किया गया। इसकी मान्यता साल 2019 में नवंबर महीने में दी गई थी। VAYU की तरफ से इस YOGA यूनिवर्सिटी में सहयोगी अनुसंधान की सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके जरिए विशभर की यूनिवर्सिटी का भी सहयोग मिलेगा।
NASA के पूर्व वैज्ञानिक नागेंद्र ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा कि आदमी के अंदर शिक्षा उसको पूर्ण बनाती है और वह राष्ट्र निर्माण में अपनी शिक्षा के जरिये योगदान कर सकता है। VAYU का मकसद छात्रों में शिक्षा देना है ताकी वह राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे सके। साल 2002 में भारत में पहली YOGA यूनिवर्सिटी शुरू की गई थी। नागेंद्र ने बताया कि इससे प्रेरित होकर ही उन्होंने विश्व में YOGA यूनीवर्सिटी का निर्माण करने की प्रेरणा मिली।
VAYU के सदस्य प्रेम भंडारी ने बताया कि इस यूनिवर्सिटी के निर्माण से YOGA की शिक्षा सीमित नहीं रहेगी। इसके अलावा उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने के प्रयास के चलते ही विश्वभर में 21 जून को योगा इंटरनेशल डे मनाया जाता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *