कोरोना के मरीजों को लूटने के आरोप में लखनऊ के हॉस्‍पिटल पर FIR दर्ज

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में कोरोना के मरीजों को इलाज के नाम पर लूटने वाले अस्पतालों पर सख्त कार्यवाही शुरू की गई है।
लखनऊ के गोमती नगर इलाके में स्थित एक निजी अस्पताल पर मरीजों से धन उगाही करने और ऑक्सीजन की कमी की बात कहकर उन्हें डिस्चार्ज करने का आरोप लगने के बाद अब एक FIR दर्ज कराई गई है।
राजधानी लखनऊ के सन हॉस्पिटल के खिलाफ लखनऊ कमिश्नरेट के विभूति खंड थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। सन हॉस्पिटल गोमती नगर के विभव खंड इलाके में स्थित है और एफआईआर में इसके संचालक अखिलेश पांडेय को नामजद किया गया है।
मरीजों को जबरन डिस्चार्ज करने का आरोप
आरोप है कि अस्पताल मरीजों को इलाज के लिए भर्ती कराने के बाद उनसे 5 से 10 लाख रुपये तक जमा कराता था। बाद में उन्हें ऑक्सीजन की कमी की बात कहकर अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाता था। अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की बात जब सोशल मीडिया पर सामने आई तो अफसरों ने इसकी जांच के आदेश दिए। जांच में पता चला है कि अस्पताल ने बेवजह मरीजों को डिस्चार्ज किया था और भर्ती मरीजों के सापेक्ष उसके पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन थी।
अस्पताल पर कई और आरोप
इस बात की जानकारी मिलने के बाद अब अस्पताल संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। इसके अलावा अस्पताल पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन किए बिना नॉन कोविड मरीजों को भर्ती करने का आरोप भी लगाया गया है। इस मामले में एफआईआर दर्ज करने के बाद अब जांच कराई जा रही है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *