बिना अनुमति रैली निकालने पर BJP प्रत्याशी Gautam Gambhir के खिलाफ FIR

नई दिल्‍ली। भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवार Gautam Gambhir के लिए एक नई मुसीबत खड़ी हो गई है। दिल्ली में बिना इजाजत रैली करने के मामले में चुनाव आयोग ने कार्रवाई की है।
चुनाव आयोग ने पूर्वी जिला निर्वाचन कार्यालय को Gautam Gambhir के खिलाफ ‘बिना अनुमति के पूर्वी दिल्ली में रैली’ करने पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है।

चुनाव आयोग के आदेश के बाद दिल्ली पुलिस ने यह कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस से कहा था कि वह बिना इजाजत रैली करने के मामले में गौतम गंभीर पर एफआईआर दर्ज करे। दरअसल, 25 अप्रैल को दिल्ली के जंगपुरा में गौतम गंभीर ने एक रैली की थी, जिसकी इजाजत प्रशासन ने नहीं दी थी।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि शनिवार को गंभीर के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई गई है। गौरतलब है कि नामांकन दाखिल करने के बाद यह पहला मामला है, जब निर्वाचन आयोग द्वारा किसी प्रत्याशी के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाने के आदेश दिए गए हैं।

गौरतलब है कि गौतम गंभीर काफी समय से बीजेपी सरकार की नीतियों के समर्थक रहे हैं। पिछले महीने ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की मौजूदगी में बीजेपी का दामन थामा था।

बता दें, दिल्ली में बीजेपी के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ रहे पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर सालाना कमाई के मामले में सबसे अमीर उम्मीदवार हैं। नामांकन के दौरान लगाए गए हलफनामे से इसका पता चलता है।
क्रिकेट के ग्राउंड से पहली बार राजनीति के मैदान में उतरे गौतम गंभीर की सालाना कमाई 12 करोड़ रुपये से अधिक है। पूर्वी दिल्ली से बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने आतिशी मार्लेना को चुनाव मैदान में उतारा है।

गंभीर ने 2017-18 में भरे गए इनकम टैक्स रिटर्न मुताबिक अपनी वार्षिक कमाई 12.4 करोड़ रुपये दिखाई है। वहीं दिल्ली उत्तर-पश्चिम सीट से बीजेपी के घोषित उम्मीदवार हंसराज हंस करीब 9.28 लाख रुपये सालाना कमाते हैं। यह विवरण 2017-18 में भरे आइटी रिटर्न के अनुसार है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *