हाथरस कांड को लेकर आगरा में सफाई कर्मचारियों का जमकर उपद्रव

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में हाथरस कांड को लेकर सफाई कर्मचारियों ने जमकर बवाल किया। अनिश्चित कालीन हड़ताल स्थगित करने के वाल्मीकि समाज के फैसले के विरोध में सफाई कर्मचारी सड़क पर उतर आए। नगर निगम अधिकारियों ने जबरन कूड़ा उठाने वाले गाड़ियां निकलवाने के मामले ने उग्र रूप ले लिया।
बवाल उतना बढ़ा कि सफाई कर्मचारियों ने जमकर पथराव और लाठीचार्ज किया। एसपी सिटी बोत्रे रोहन ने पथराव करने वालों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाई की बात कही है। तनाव को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।
चार दिनों से हड़ताल पर हैं सफाई कर्मचारी
बता दें कि चार दिनों से वाल्मीकि समाज हाथरस कांड को लेकर न्याय की मांग करते हुए हड़ताल पर है। शुक्रवार शाम को सर्किट हाउस में वाल्मीकि महापंचायत के साथ अधिकारियों की वार्ता हुई और समाज के संगठनों ने हड़ताल को स्थगित करने का फैसला ले लिया। शनिवार सुबह जब लोहामंडी थाना क्षेत्र के राजनगर स्थित आईडीएच वर्कशॉप पर कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों को निकाला जाने लगा तो कर्मचारियों ने विरोध जताया और हड़ताल खत्म न करने का हवाला दिया।
अपर नगर आयुक्त से हुई बहस
इसको लेकर अपर नगर आयुक्त और सफाई कर्मियों में काफी बहस हुई। जबरन गाड़ियां निकाले जाने पर सफाई कर्मी उग्र हो गए और उन्होंने वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। तोड़फोड़ की सूचना मिलते ही एसपी सिटी, नगर आयुक्त और जिलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को देख सफाईकर्मी और उग्र हो गए और पथराव शुरू कर दिया।
वाल्मीकि समाज के नेता बोले बड़े आंदोलन को तैयार रहें
जवाब में पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए सबको खदेड़ दिया। प्रकरण में वाल्मीकि समाज के नेता गौरव वाल्मीकि का कहना है कि भारत मे सबको अपनी बात कहने का अधिकार है और हमारे समाज के भाइयों के साथ ज्यादती की गई है। आगे प्रशासन को बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहना होगा।
फोर्स तैनात, सोशल मीडिया पर नजर
इस घटना पर एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद का कहना है कि पथराव करने वालों को चिन्हित किया जा रहा है और सभी पर कार्यवाई की जाएगी। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है और एहतियातन पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। सोशल मीडिया पर लगातार नजर रखी जा रही है और संवेदनशील क्षेत्रों में विशेष नजर रखी जा रही है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *