कोरोना के बढ़ते संक्रमण से भयभीत जर्मनी ने कड़ा लॉकडाउन लागू किया

कोविड-19 संक्रमण के तेज़ी से बढ़ते मामलों पर लगाम लगाने की कोशिश में जर्मनी ने कड़ा लॉकडाउन लागू कर दिया है. जिसके तहत स्कूल और ग़ैर-ज़रूरी कारोबार बंद कर दिए गए हैं.
नए प्रतिबंध 10 जनवरी तक जारी रहेंगे. क्रिसमस के मौक़े पर इनमें कुछ ढील मिलेगी और एक घर, चार क़रीबी पारिवारिक सदस्यों के साथ त्योहार मना सकेगा.
जर्मनी में मंगलवार को 14,432 मामले और 500 मौतें दर्ज की गई थीं.
क्रिसमस को देखते हुए ही अन्य यूरोपीय देशों ने भी प्रतिबंध सख़्त कर दिए हैं. फ्रांस ने रात में कर्फ्यू लगा दिया है.
जर्मनी के लॉकडाउन में सिर्फ ज़रूरी कारोबारों जैसे सुपरमार्केट और बैंकों को खुलने की अनुमति होगी. रेस्तरां, बार नवंबर से ही बंद हैं. देश के कुछ क्षेत्रों ने अपने ख़ुद के लॉकडाउन लगा दिए थे.
हेयर सैलून बंद रखने होंगे. वहीं कपनियों को अपने कर्मचारियों को घर से ही काम करवाने के लिए कहा गया है.
जर्मनी के रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट के प्रमुख लोथर विलेर कहते हैं कि महामारी अब तक के अपने सबसे गंभीर दौर में है.
वो कहते हैं, “मामले अब तक की सबसे तेज़ गति से बढ़ रहे हैं. डर है कि स्थिति ऐसे ही ख़राब होती रहेगी और महमारी और उसके परिणामों से निपटना और मुश्किल होता जाएगा.”
ये ख़बर ऐसे वक़्त में आई है जब जर्मन सरकार ने कहा है कि वो यूरोपियन मेडिसीन एजेंसी (ईएमए) पर जर्मनी में ही विकसित फाइज़र-बायोएनटेक को मंज़ूरी देने की प्रक्रिया तेज़ करने का दबाव बना रही है. इस वैक्सीन को ब्रिटेन और अमेरिका में मंज़ूरी दी जा चुकी है.
स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा कि वो चाहते हैं कि वैक्सीन को क्रिसमस से पहले मंज़ूरी मिल जाए.
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *