दिल्ली में 27 नवंबर से एक हफ्ते के लिए पेट्रोल और डीजल इंजन कारों की एंट्री बैन

दिल्ली सरकार ने राजधानी में एक हफ्ते के लिए पेट्रोल और डीजल इंजन कारें को एंट्री बैन कर दी है। यह बैन 27 नवंबर से 3 दिसंबर के बीच लागू किया जाएगा। सरकार ने राजधानी में पॉलूशन पर काबू पाने के लिए यह कदम उठाया है। दिल्ली में बीते कुछ समय से एयर क्वॉलिटी इंडेक्स बेहद खराब है। खबर लिखे जाने तक दिल्ली का AQI 330 था जो कि बेहद खतरनाक है।
CNG और इलेक्ट्रिक कारों को छूट
पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया है कि इस मेंडेट से CNG और इलेक्ट्रिक कारों को छूट है। इससे पहले सरकार ने 18 से 21 नवंबर के बीच ट्रकों की एंट्री बैन कर दी थी। इसमें एसेंसियल गुड्स ले जाने वाले ट्रक्स को छूट दी गई थी।
इससे पहले दिल्ली में एयर पलूशन पर काबू पाने के लिए 10 साल से पुराने डीजल वीकल्ज पर बैन लगा दिया गया है। ऐसे में उन लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है जिनके पास 10 साल से ज्यादा पुरानी डीजल कार मौजूद हैं। देश में सबसे ज्यादा वायु प्रदूषण दिल्ली में है पर एक तरीका ऐसा भी है जिससे आप अपनी पुरानी डीजल कार को दिल्ली की सड़को पर दौड़ा सकेंगे।
दिल्ली में अपनी डीजल कार को इलेक्ट्रिक कार में कनवर्ट करके आप न सिर्फ अपनी कार का पोजेशन कायम रख सकेंगे बल्कि उसे सरपट सड़कों पर दौड़ा भी सकेंगे। इसके लिए आपको फ्यूल किट की जगह ई-मोटर और बैटरी फिट करानी होगी। इस बात की जानकारी परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने दी है। उन्होंने कहा कि, राष्ट्रीय राजधानी अब इंटरनल कंब्शन इंजन (ICE) की इलेक्ट्रिक रेट्रोफिटिंग के लिए तैयार है। हांलांकि अभी तक यह जानकारी नहीं मिली है कि सरकार डीजल कार को इलेक्ट्रिक में कनवर्ट करने के लिए कितनी सब्सिडी देगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *