Lucknow विश्वविद्यालय की परीक्षा निधि का गबन, जांच शुरू

लखनऊ। Lucknow विश्वविद्यालय के परीक्षा निधि से एक करोड़ से ज्यादा रुपये हड़पे जाने के बाद बुधवार को तीन सदस्यीय समिति ने मामले की जांच शुरु कर दी।
जानकारी के मुताबिक इस मद्देनजर विश्वविद्यालय की परीक्षा निधि के अलावा भी बाकी खातों की जांच की जाएगी। गौरतलब है कि Lucknow विश्वविद्यालय के यूको बैंक के खाते से जालसाजों ने 11 चेकों की क्लोनिंग कर एक करोड़ रुपये से ज्यादा रकम हड़प ली थी।
वित्त विभाग पर भी सवाल
साल 2000-01 की चेकों के जरिए क्लोनिंग कर पैसा हड़पने की थ्योरी पर Lucknow विश्वविद्यालय के वित्त विभाग की भी भूमिका पर सवाल खड़े होने लगे हैं।
इसके बाद वीसी प्रो. एसपी सिंह ने तीन सदस्यीय समिति गठित कर जांच और ऐसे मामलों पर रोकने की रिपोर्ट मांगी है। तीन सदस्यीय टीम में शामिल वित्त अधिकारी संजय श्रीवास्तव के साथ-साथ कोषागार के सेवानिवृत्त अतिरिक्त निदेशक नरेंद्र भूषण और भारतीय स्टेट बैंक मुख्य शाखा के मुख्य सहायक के के सिंह बुधवार को वीसी से मिले।
विश्वविद्यालय के बाकी खातों की होगी जांच
इस दौरान वित्त अधिकारी से सभी खातों से जुड़े दस्तावेज मांगे गए। जांच समिति के अनुसार विश्वविद्यालय के बाकी खातों की भी जांच जरूरी है ताकि पता लगाया जा सके कि कहीं और घपलेबाजी तो नहीं हुई है। इससे यह भी पता चल सकेगा कि गड़बड़ी कहां से हुई है।
फॉरेंसिक जांच से सामने आएगा सच
लखनऊ विश्वविद्यालय के जिन 11 चेकों की क्लोनिंग कर 1 करोड़ 9 लाख 82 हजार 935 रुपये निकाले गए, वह वर्ष 2000 में जारी चेकबुक के हैं। हालांकि बैंक ने बुधवार तक चेक विश्वविद्यालय प्रशासन को नहीं सौंपी हैं। चेक मिलने पर फॉरेंसिक जांच के बाद पता लग सकेगा कि उन पर विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साइन हैं या फर्जी साइन किए गए थे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *