EVM में गड़बड़ी की अखिलेश की शिकायतें चुनाव आयोग से खारिज

मुरादाबाद। EVM पर सवाल को लेकर समाजवादी पार्टी (एसपी) को बड़ा झटका लगा है। चुनाव आयोग ने EVM में गड़बड़ी के आरोपों को खारिज कर दिया है।
तीसरे चरण में उत्तर प्रदेश की 10 लोकसभा सीटों पर मतदान किया जा रहा है। इस दौरान कहीं से EVM में गड़बड़ी की शिकायत की जा रही है तो कभी एसपी चीफ सवाल उठा रहे हैं। आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम ने प्रशासन पर आरोप लगाया है।
मुरादाबाद के बूथ नंबर 231 में तैनात चुनाव अधिकारी पर आरोप लगा कि वह मतदाताओं से साइकल निशान के सामने बटन दबाने का दबाव बना रहा था। इसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उसकी जमकर पिटाई की।
इसके इतर यूपी में कई अन्य जगहों से भी बवाल की खबरें सामने आईं। उधर, EVM पर सवाल को लेकर समाजवादी पार्टी (एसपी) को बड़ा झटका लगा है। चुनाव आयोग ने EVM में गड़बड़ी के आरोपों को खारिज कर दिया है।
एसपी चीफ अखिलेश का बीजेपी पर हमला
समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘पूरे भारत में ज्यादातर EVM या तो खराब हैं या उनमें बीजेपी के पक्ष में खुद ब खुद वोट पड़ने की शिकायत सामने आ रही है। डीएम का कहना है कि EVM चलाने वाले मतदान अधिकारियों को सही प्रशिक्षण नहीं दिया गया है। 350 से ज्यादा जगहों पर बदला गया। 50 हजार करोड़ रुपये की लागत से होने वाली मतदान प्रक्रिया में इस तरह की गतिविधियां आपराधिक कृत्य है। क्या हमें डीएम की बातों पर यकीन करना चाहिए या कुछ बहुत अधिक भयावह कदम है?’ उन्होंने यह भी कहा, ‘मशीनें खराब होंगी तो लोकतंत्र मजबूत कैसे होगा।’
बदायूं लोकसभा सीट में एसपी नेता का आरोप
बदायूं लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी (एसपी) के उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य पर चुनाव प्रभावित करने का आरोप लगाया है।
दरअसल, स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी और बीजेपी उम्मीदवार संघमित्रा मौर्य भी बदायूं लोकसभा सीट से ही चुनावी मुकाबले में हैं। धर्मेंद्र यादव के आरोपों के बाद प्रशासनिक अमला स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर छापेमारी करने पहुंचा। हालांकि, इस दौरान स्वामी प्रसाद घर में नहीं मिले।
अब्दुल्ला आजम ने लगाया आरोप
वहीं, रामपुर लोकसभा सीट से एसपी-बीएसपी गठबंधन के उम्मीदवार आजम खान की ओर से मोर्चा संभालते हुए उनके बेटे अब्दुल्ला आजम ने कहा है कि 300 ईवीएम काम नहीं कर रही हैं। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस पर मतदाताओं की पिटाई करने का भी आरोप लगाया है। रामपुर डीएम ने इन तमाम आरोपों को सिरे से खारिज किया है। उन्होंने कहा, ‘शुरुआत में समस्या थी लेकिन बाद में सब-कुछ ठीक हो गया।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *