UAE के अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर हूती विद्रोहियों का ड्रोन हमला, 3 लोगों की मौत

संयुक्त अरब अमीरात UAE पर यमन के हूती विद्रोहियों ने बड़ा हमला किया है। जानकारी के मुताबिक अबू धाबी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के नए निर्माण स्थल पर सोमवार को दो जोरदार धमाके हुए। बताया जा रहा है कि ये हमले ड्रोन के जरिए किए गए हैं। हालांकि ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों ने हमले की जिम्मेदारी ले ली है। संयुक्त अरब अमीरात की सरकारी समाचार एजेंसी ने पुलिस के हवाले से कहा गया है कि अबुधाबी में संदिग्ध ड्रोन हमले में तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि छह लोग घायल हुए हैं।
स्थानीय मीडिया का कहना है कि सबसे पहले मुसाफ्फा इलाके में 3 तेल टैंकरों में विस्फोट हुआ। अबू धाबी में तेल के तीन टैंकरों में ड्रोनों की मदद से विस्फोट किये गये हो सकते हैं और संभवत: इसकी वजह से सोमवार को संयुक्त अरब अमीरात के मुख्य हवाई अड्डे के एक विस्तार पटल पर आग लगने की घटना सामने आई। पुलिस ने एक बयान में यह बात कही। अबू धाबी पुलिस ने हवाई अड्डे पर लगी आग को ‘मामूली’ बताया और कहा कि यह आग शहर के मुख्य विमानपत्तन के एक विस्तार पटल पर लगी, जो निर्माणाधीन है।
बयान में अबू धाबी की सरकारी स्वामित्व वाली तेल कंपनी एडीएनओसी के एक भंडारण केंद्र के पास तीन पेट्रोलियम टैंकरों में विस्फोट की एक अलग घटना की भी जानकारी दी गयी। अबू धाबी पुलिस के अनुसार, प्रारंभिक जांच में छोटी-छोटी उड़ने वाली वस्तुओं के दोनों इलाकों में गिरने का पता चला है, जो संभवत: ड्रोन से संबंधित हो सकती हैं। इनसे विस्फोट और आग की घटना को अंजाम दिया गया हो सकता है।
इस बीच यमन के हूती विद्रोहियों ने संयुक्त अरब अमीरात में हमला करने का दावा किया है। यूएई और यमन के बीच 2015 से संघर्ष चल रहा है। हूती के सैन्य प्रवक्ता याहिया सरेई ने कहा कि उनके समूह ने यूएई में अंदर तक हमला किया है। सरेई ने ज्यादा जानकारी नहीं देते हुए कहा कि जल्द ही एक बयान जारी किया जाएगा। हूती संगठन के नियंत्रण वाली फोर्स के प्रवक्ता याह्या सारी (Yahya Saree) से जुड़े एक ट्विटर अकाउंट के एक पोस्ट के अनुसार, हूतियों ने ‘आने वाले घंटों में संयुक्त अरब अमीरात में बड़ा सैन्य अभियान’ करने की चलाने बनाई है। हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के बाद अब यूएई पर हमले करना शुरू कर दिया है।
घटनाओं की जांच शुरू
स्थानीय मीडिया के मुताबिक दोनों ही जगहों पर आग को नियंत्रित कर लिया गया है। इस हमले से वायु मार्ग प्रभावित नहीं हुआ है, ना ही किसी तरह का कोई बड़ा नुकसान हुआ है। आग लगने के कारणों का पता लगाने के लिए बड़े स्तर पर जांच शुरू कर दी गई है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *