DRDO लगाएगा 3 महीने में 500 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट

नई द‍िल्ली। ऑक्सीजन की कमी से जूझती मेडीकल सेवाओं को डीआरडीओ अगले तीन महीने में 500 प्लांट लगाने जा रहा है।
आज रक्षा मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार देश में 500 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण रक्षा अनुंसधान एवं विकास संगठन (DRDO) की ओर से पीएम केयर्स फंड के तहत किया जाएगा। यह जानकारी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने दी।

रक्षा मंत्री ने ट्वीट में कहा, ‘DRDO द्वारा LCA तेजस के लिए विकसित मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट (MOP) टेक्नोलॉजी से वर्तमान में कोविड-19 मरीजों के लिए हुई ऑक्सीजन की किल्लत से निपटने में मदद मिलेगी।’ बता दें कि DRDO द्वारा विकसित किए जाने वाले मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट टेक्नोलॉजी LCA, Tejas के ऑन-बोर्ड ऑक्सीजन जेनरेशन का काम करती है।

भारत में कोविड-19 मामलों में तेजी के कारण अनेक राज्यों में मेडिकल ऑक्सजीन व हॉस्पीटल बेड की भारी किल्लत है। DRDO ने एक बयान में बताया कि MOP टेक्नोलॉजी का ट्रांसफर बेंगलुरु के टाटा एडवांस सिस्टम लिमिटेड व कोयंबटूर के ट्राइडेंड न्यूमैटिक्स को किया जाएगा। इसके बाद ये दोनों कंपनियां मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना करेंगी। इन प्लांटों से प्रति मिनट 1000 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन हो सकेगा।

अमेरिका समेत दुनिया के अन्य देशों से भारत को ऑक्सीजन सिलेंडर समेत तमाम आवश्यक चीजों की आपूर्ति की जा रही है। इसके अलावा DRDO की ओर से हरियाणा के हिसार और पानीपत में 500-500 बिस्तरों के दो कोविड अस्पताल स्थापित किए जाएंगे। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सेना की पश्चिमी कमान को इन अस्पतालों के लिए डॉक्टर और अन्य चिकित्सा कर्मी उपलब्ध कराने को कहा गया है।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *