मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण: सहयोगी सहित डॉ. अलका राय गिरफ्तार

बाराबंकी। मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण में नामजद डॉ अलका राय व उनके सहयोगी को बाराबंकी पुलिस ने मऊ स्थित उनके आवास से सोमवार रात गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को हिरासत में लेने के बाद पुलिस उन्हें बाराबंकी ले आई है। यहां उनसे पूछताछ की जाएगी।

मुख्तार अंसारी को पंजाब में कोर्ट ले जाने के बाद एंबुलेंस चर्चा में आई थी। जांच में पता चला था कि यह फर्जी दस्तावेजों के आधार पर बाराबंकी एआरटीओ में पंजीकृत कराई गई थी। इसके बाद एआरटीओ प्रशासन पंकज सिंह ने मऊ की अस्पताल संचालिका डॉ अलका राय को नामजद किया था। बाद में उनसे पूछताछ के बाद मुख्तार अंसारी को भी प्रकरण में सह अभियुक्त बनाया गया था। इसमें मुख्तार के करीबी राजनाथ को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि बिना कागजात और फिटनेस के प्रयोग में लाई गई एंबुलेंस के मामले में बाराबंकी में केस दर्ज किया गया था। बाराबंकी पुलिस ने इस मामले में मऊ की भाजपा नेता डॉक्टर अलका राय के अस्पताल का नाम आने के बाद मऊ जाकर पड़ताल की। इस मामले में मुख्तार के खास राजनाथ यादव को पकड़ा गया।

बाराबंकी पुलिस जब मऊ गई थी तो डॉक्टर अलका राय के बयान के आधार पर मऊ के थाना सराय लखनी के अहिरौली गांव निवासी राजनाथ यादव को पकड़ा था। उस पर आरोप है कि उसने डॉक्टर राय पर एंबुलेंस को लेकर दबाव बनाया था। उससे पूछताछ के बाद बाराबंकी पुलिस ने सोमवार रात मऊ से डॉ. अलका राय और उनके भाई को गिरफ्तार किया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *