अब सप्‍ताह में दो दिन भक्‍तों के लिए बंद रहेंगे काशी विश्वनाथ के द्वार

द्वाशस ज्योर्तिलिंगों में प्रमुख श्री काशी विश्वनाथ का द्वार सप्ताह में दो दिन श्रद्धालुओं के लिए बन्द रहेगा। योगी सरकार के मिनी लॉकडाउन के फार्मूले के तहत बाबा विश्वनाथ का दरबार भी भक्तों के लिए 55 घंटे लॉक रहेगा। हालांकि सोमवार की सुबह 5 बजे से भक्त मन्दिर में दर्शन कर सकेंगे।
भारत सहित पूरी दुनिया में कोरोना ने कोहराम मचा रखा है। कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख श्री काशी विश्वनाथ मंदिर सप्ताह में दो दिन भक्तों के लिए बन्द रहेगा। श्री काशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन ने भक्तों की सुरक्षा और सहूलियत के मद्देनजर ये फैसला लिया है।
मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी गौरांग राठी ने बताया कि शुक्रवार रात्रि 10 बजे से सोमवार की सुबह 5 बजे तक मंदिर भक्तों के लिए बन्द रहेगा। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जनहित में ये फैसला किया गया है। अगले आदेश तक मंदिर में ये व्यवस्था लागू रहेगी।
जारी रहेगा आरती और पूजा पाठ
योगी सरकार के मिनी लॉकडाउन में फार्मूले के ऐलान के बाद द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का द्वार 55 घंटे श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा लेकिन इस दौरान मन्दिर में बाबा की चारों पहर की आरती मंदिर के पुरोहित नियमित रूप से करते रहेंगे ।
पहले भी बन्द हो चुके हैं कपाट
कोरोना के कहर के बीच काशी विश्वनाथ का दरबार पहले भी लगभग तीन महीनों के लिए बंद था। 21 मार्च से मंदिर प्रशासन ने मन्दिर को बन्द कर दिया था। देश मे अनलॉक की शुरुआत के बाद सरकारी गाइडलाइंस के मुताबिक मंदिर को खोलने की प्रकिया शुरू हुई। जिसमें वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर भी 9 जून से भक्तों के लिए खोल दिया गया। हालांकि मन्दिर में प्रवेश के लिए मंदिर प्रशासन ने भक्तों को सैनेटाइज करने के साथ ही मास्क का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की व्यवस्था भी की है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *