अपनी सेना से डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा, ये तूफान से पहले का सन्नाटा है

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि ये तूफान से पहले का सन्नाटा है। ट्रंप ने ये बात सेना के आला अफसरों से मुलाकात के बाद कही। हालांकि उन्होंने इसके अलावा और कुछ नहीं कहा। ईरान के साथ परमाणु समझौते को रोकने की ट्रंप की योजना से जुड़ी खबरों के कुछ ही घंटों के भीतर उन्होंने ये इशारा दिया।
ट्रंप जिस तूफान का जिक्र कर रहे थे कि उसका संबंध उत्तर कोरिया से अमेरिका से बढ़े तनाव को लेकर भी हो सकता है। इससे पहले सेना के सीनियर अफसरों से ट्रंप ने कहा कि उन्हें भविष्य में कई तरह के सैनिक विकल्प मुहैया कराए जाने की उम्मीद है और वो भी तेजी से व्हाइट हाउस में सेना अधिकारियों और उनकी पत्नियों के साथ फोटो सेशन के बाद ट्रंप ने कहा, ये तूफान से पहले का सन्नाटा है।
जब पत्रकारों ने उनसे इसका मतलब पूछा तो ट्रंप का जवाब था, आपको पता चल जाएगा। मौजूदा हालात में ट्रंप प्रशासन का इशारा दो देशों की तरफ हो सकता है- उत्तर कोरिया और ईरान। दोनों देशों के अपने परमाणु कार्यक्रम हैं। सेना के अधिकारियों के साथ ट्रंप की मुलाकात के दौरान इन दोनों देशों पर बात हुई। ट्रंप ने ईरान पर समझौते की भावना के अनुसार काम न करने का आरोप लगाया है।
ईरान और अमेरिका के बीच ये समझौता पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल के दौरान हुआ था। साल 2015 का ये समझौता ईरान को उसके परमाणु कार्यक्रम से रोकने के लिए किया गया था। ट्रंप ने इस समझौते के बारे में कहा है कि ये उन सबसे खराब समझौतों में से एक है, जो उन्होंने अब तक देखे हैं।
-एजेंसी