नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में बोले डोनल्‍ड, पाकिस्तान को अपनी जमीन से आतंकवाद खत्म करना होगा

अहमदाबाद। दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडिमय से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने आतंकवाद के खिलाफ भारत का साथ देने का वादा करते हुए पाकिस्तान को अपनी जमीन से आतंकवाद खत्म करने को कहा।
ट्रंप ने पाकिस्तान का नाम लेकर कहा कि उसकी जमीन से आतंकवाद को खत्म करना होगा। पाकिस्तान का जिक्र आते ही एक लाख से अधिक लोगों की तालियों से स्टेडियम गूंज उठा। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि भारत की तरह उनका भी देश आतंकवाद का शिकार रहा है और हम कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से निपटने के लिए भी साथ हैं।
साबरमती आश्रम के बाद मोटेरा स्टेडिमय में आयोजित नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘भारत और अमेरिका दोनों ही अपने नागरिकों को इस्लामिक आतंकवाद से बचा रहे हैं। ट्रंप ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के खात्मे का जिक्र करते हुए कहा, ‘मेरे कार्यकाल में अमेरिका सैन्य शक्ति को आईएसआईएस के खिलाफ खुली छूट दी। आज आईएस का खलीफा मारा जा चुका है। राक्षस बगदादी मर चुका है।’
ट्रंप ने पाकिस्तान को लेकर कहा, ‘हमारे नागरिकों की सुरक्षा पर खतरा बनने वालों को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। हर देश को सीमा सुरक्षा का अधिकार है। अमेरिका और भारत आतंकवाद और आतंकी विचारधारा से लड़ रहा है। ट्रंप प्रशासन पाकिस्तान के साथ बात कर रहा है। पाकिस्तानी सीमा में आतंकियों के खिलाफ कार्यवाही करनी होगी। हमारे पाकिस्तान से अच्छे संबंध हैं। हमें लग रहा है कि पाकिस्तान कुछ कदम उठा रहा है। ये पूरे दक्षिण एशिया के लिए जरूरी है। भारत को इसमें अहम योगदान निभाना है।’
हथियार डील पर बोले ट्रंप
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा, ‘हम सबसे अच्छे एयरोप्लेन, रॉकेट, शिप्स , भयानक हथियार बनाते हैं, एरियल वीइकल, 3 अरब डॉलर फाइनल स्टेज में है। हम ये हथियार भारतीय सेना को देंगे। मैं मानता हूं कि अमेरिका को भारत का सबसे बड़ा डिफेंस पार्टनर होना चाहिए। इंडो पैसिफिक रीजन को सुरक्षित रखना है।
पीएम नरेंद्र मोदी ने क्‍या कहा
अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘नमस्ते ट्रंप’ के समापन भाषण में बताया कि कैसे आज अमेरिका भारत का सबसे बड़ा पार्टनर बन गया है।
मोदी ने कहा, ‘आज भारत का सबसे बड़ा ट्रेड पार्टनर अमेरिका है। भारत की सेना सबसे ज्यादा जिस देश के सैनिकों के साथ अभ्यास कर रही है, वह है अमेरिका। डिफेंस, एनर्जी, हेल्थ, इन्फर्मेशन टेक्नोलॉजी, हर क्षेत्र में हमारे संबंधों का दायरा बढ़ रहा है।’
मोदी ने प्रेसीडेंट ट्रंप के साथ अपनी पहली मुलाकात का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, जब वॉशिंगटन में जब मैं प्रेसीडेंट ट्रंप से पहली बार मिला था तो उन्होंने (ट्रंप ने) कहा था कि व्‍हाइट हाउस (अमेरिकी राष्ट्रपति का आधिकारिक आवास) में भारत का एक सच्चा दोस्त है। प्रेसीडेंट ट्रंप ने भारत के प्रति अपने इस विशेष प्यार को हमेशा प्रदर्शित किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब व्‍हाइट हाउस में दिवाली मनाई जाती है तो अमेरिका में रहने वाले 40 लाख भारतीय भी गर्व महसूस करते हैं।’
प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के लोग भी अमेरिकियों की तरह परिवर्तन की चाहत रखते हैं। उन्होंने कहा, ‘अमेरिका की तरह भारत में भी परिवर्तन की चाहत है। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम ही नहीं है, आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम भी चला रहा है। आज भारत सबसे ज्यादा सैटलाइट भेजने का रेकॉर्ड बना रहा है तो सबसे बड़ा फाइनैंशल इन्क्लूजन प्रोग्राम भी चला है।’
प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने 1,500 कानूनों को खत्म किया तो कुछ कानून बनाए भी। मोदी ने कहा, ‘ट्रांसजेडर पर्संस के लिए अधिकार, तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर मुस्लिम महिलाओं का सम्मान, दिव्यांगजनों को प्राथमिकता देना, महिलाओं को प्रेग्नैंसी के दौरान 26 महीने की वेतन सहित अवकाश को लेकर कानून बने हैं।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *