फैसिलिटेशन काउंसिल में निपटेंगे उद्योगपतियों के भुगतान के विवाद

आगरा। लघु, सूक्ष्म और मध्यम उद्योग (एमएसएमई) के व्यापारियों को प्रदेश सरकार ने बड़ी राहत दी है। इन तीनों वर्गों में आने वाले व्यापारियों के पिछले तीन साल के लेनदेन के फंसे भुगतान को फैसिलिटेशन काउंसिल में निपटाया जाएगा। काउंसिंल की स्थापना का आदेश मुख्यमंत्री के द्वारा सभी मंडलों के लिए किया गया। व्यापारियों को भुगतानमिलने में हो रही देरी से लंबा इंतजार करना पड़ रहा था।

गुरुवार को होटल सागर रत्न में लघु उद्योग भारती की ओर से आयोजित की गई बैठक की अध्यक्षता करते हुए लघु उद्योग भारती के जिलाध्यक्ष भुवेश अग्रवाल ने कहा कि फैसिलिटेशन काउंसिल का गठन व्यापारियों के लिए उम्मीद की नई किरन लेकर आया है। इस दौरान लघु उद्योग भारती के महासचिव विजय गुप्ता, कोषाध्यक्ष शशिकांत जैन, संजीव चतुर्वेदी, राजीव बंसल, अनुज सिंघल, मनीष गर्ग, अरविंद शुक्ला, समक्ष जैन, शैलेश अग्रवाल, राजीव अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

लघु उद्योग भारती, ब्रज प्रान्त के संपर्क प्रमुख, मनीष अग्रवाल का कहना है क‍ि सरकार द्वारा फैसिलिटेशन काउंसिल के बनने से व्यापारियों को बड़ी राहत मिलेगी। साथ ही व्यापारियों के लिए लघु उद्योग भारती की यह कोशिश उनकी भुगतान राशि दिलाने में अहम भूमिका निभाएगी। इससे आगरा मंडल में एक हज़ार से भी अधिक भुगतान पीड़ित उद्योगपतियों को मिलेगी राहत।

दीपक अग्रवाल, प्रदेश महामंत्री, लघु उद्योग भारती का कहना है क‍ि  लघु उद्योग भारती के दो साल के प्रयासों से मंडल स्तर पर फैसिलिटेशन काउंसिल शुरू हुआ है। अभी तक लगभग बीस दिन में 56 ऑनलाइन शिकायतें आगरा मंडल की आ चुकी हैं।

इन बिंदुओं पर काउंसिल करेगा काम
-एमएसएमई के व्यापारियों का पिछले तीन साल से कंपयिनों और सरकारी विभागों के भुगतान में हो रही देरी का समाधान
-आवेदन के 90 दिन में आवेदक को राजस्व के रूप में उसका भुगतान कराने की व्यवस्था।
-वसूली के समय बैंक की तर्ज पर तीन प्रतिशत ब्याज भी उद्योगपति को दिलाने की व्यवस्था।
-अपील सिर्फ हाईकोर्ट में हो सकती है। वो भी इस शर्त के साथ कि जिसे भुगतान करना है, उसे भुगतान का कम से कम 75 प्रतिशत रकम जमा की हो।

काउंसिल में होंगे पांच सदस्य
फैसिलिटेशन काउंसिल में पांच सदस्य रहेंगे। इनमें आगरा के मंडलायुक्त अमित कुमार चेयरमैन हैं। इसके अलावा आगरा मंडल की संयुक्त आयुक्त उद्योग अंजू रानी को चेयरमैन हैं। लघु उद्योग भारती के ओर से दीपक अग्रवाल, इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन से प्रमोद अग्रवाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है। पांचवे सदस्य के रूप में जिला के अग्रणी बैंक के कोई एक प्रबंधक होंगे।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *