12 मिनट के भाषण में 10 मिनट मुझे और पीएम को गाली देती है दीदी: अमित शाह

पूर्वी बर्धमान। कोरोना संक्रमण के बीच पश्चिम बंगाल के पूर्वी बर्धमान में केंद्रीय अमित शाह ने चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए दावा कि बीजेपी 122 सीटों पर आगे हैं। उन्होंने कहा कि वह बंगाल में ‘बम, बंदूक और बारूद’ के मॉडल को बदलकर ‘विश्वास, विकास और व्यापार’ करना चाहते हैं। अमित शाह ने बताया कि बंगाल में तीन तरह के नागरिक रहते हैं पहले घुसपैठिए, दूसरे साधारण नागरिक और तीसरे शरणार्थी।
अमित शाह ने रैली में कहा, ‘बंगाल में तीन तरह के नागरिक हैं। पूरे देश में वैसे तो एक ही तरह के नागरिक हैं लेकिन बंगाल में थोड़ा अलग है। पहले घुसपैठिये हैं, जिन्हें दीदी काफी पसंद करती हैं। सिर्फ बीजेपी बंगाल को घुसपैठ से रोक सकती है। दूसरे साधारण लोग हैं, आपके और मेरे जैसे, जिन्हें बंगाल में सेकंड ग्रेड नागरिकों की तरह समझा जाता है।’
अमित शाह ने आगे कहा, ‘तीसरे हैं मटुआ और नामशूद्र जैसे शरणार्थी, जिन्हें 70 सालों से नागरिकता नहीं मिली और न ही एक सम्मानजनक जिंदगी। उन्हें नागरिकता मिलनी चाहिए और बीजेपी इसे दिलाएगी।’
’12 मिनट भाषण में 10 मिनट मुझे और पीएम को गाली देती हैं दीदी’
ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा, ‘दीदी के पास बंगाल के विकास के लिए कोई एजेंडा नहीं है। दीदी बंगाल में 12 मिनट भाषण करती हैं और 10 मिनट मोदी जी को और मुझे गालियां बोलती हैं, दो मिनट सुरक्षा बलों को कोसती हैं। बंगाल का युवा आज रोजगार के लिए बंगाल से बाहर जा रहा है। हमने ने तय किया है कि पांच साल के अंदर हर परिवार से एक व्यक्ति को रोजगार देने का काम बीजेपी सरकार करेगी।’
‘बंगाल के लोगों का छीनते हैं घुसपैठिए, सिर्फ बीजेपी रोक सकती है’
122 सीटों पर आगे होने का दावा करते हुए अमित शाह ने कहा, ‘हम बम, बंदूक और बारूद के मॉडल को बदलकर विश्वास, विकास और व्यापार करना चाहते हैं। घुसपैठिए बंगाल के लोगों के हक का रोजगार लेते हैं। बंगाल के लोगों के हक का राशन ले जाते हैं। बंगाल के अंदर कानून व्यवस्था को बिगाड़ते हैं। घुसपैठ को रोकने का काम सिर्फ बीजेपी कर सकती है और कोई नहीं कर सकता।’
‘मृत लोगों के साथ भी आप राजनीति कर रही हो’
कूचबिहार हिंसा पर ममता बनर्जी के कथित ऑडियो टेप लीक को लेकर अमित शाह ने कहा, ‘पिछले दिनों दीदी का एक ऑडियो सामने आया है। जिसमें वो कहती हैं कि कूच बिहार में जो 4 लोग दुर्भाग्यपूर्ण घटना में मारे गए हैं, उनके शव के साथ जुलूस निकालना है। दीदी, शर्म करो, मृत लोगों के साथ भी आप राजनीति कर रही हो।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *