म्यांमार में चीन के खिलाफ प्रदर्शन, ‘ड्रैगन’ को बताया असली अपराधी

म्यांमार के नागरिकों ने शुक्रवार को सैन्य तानाशाह जनरल मिन आंग हलिंग का समर्थन करने के लिए चीन का विरोध किया है। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि चीन असली अपराधी है। वह शांतिप्रिय देश के जीवन में अशांति पैदा कर रहा है। एक प्रदर्शनकारी ने कहा, “उन्होंने सेना को लोकतंत्र को दांव पर लगाने के लिए मजबूर किया है।”
विभिन्न आयु वर्ग के लोगों ने चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। विरोध में समाज के सभी वर्गों की भागीदारी देखी गई। प्रदर्शन के दौरान ऐसे कई बैनर दिखे, जिसपर लिखा था, “सैन्य तानाशाह का समर्थन करना बंद करो।” इससे पहले, लाखों लोगों ने म्यांमार में जनरल मिन आंग हलिंग के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।
एक फरवरी को म्यांमार की सेना ने तख्तापलट किया और नवंबर 2020 के चुनावों में धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए नेशनल लीग ऑफ़ डेमोक्रेसी (NLD) की लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को उखाड़ फेंका।
म्यांमार में अशांति लाने के लिए नेपाल, हांगकांग और अन्य देशों ने भी चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। आपको बता दें कि म्यांमार की सेना ने कई राजनीतिक नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया, जिसमें स्टा काउंसलर आंग सान सू की और राष्ट्रपति विन म्यिंट भी शामिल थे। इसके साथ ही एक साल की आपातकाल की घोषणा कर दी गई।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *