रक्षा मंत्री राजनाथ का स्‍पष्‍ट संदेश: पाकिस्‍तान से अब सिर्फ PoK पर बात

कालका (हरियाणा)। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाने से बौखलाए पाकिस्तान को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चेतावनी दी है।
उन्होंने साफ कहा कि पाकिस्तान से अब जो भी बात होगी, वह पाक अधिकृत कश्मीर POK पर होगी।
रक्षा मंत्री ने आज हरियाणा के कालका में एक जनसभा के दौरान यह बात कही, जबकि पाकिस्तान को इस बात का डर पिछले कई दिनों से लग रहा था। हाल में ऐसी खबरें आईं थीं कि इमरान खान सरकार को डर लग रहा है कि अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाए जाने के बाद भारत अब POK में बालाकोट से भी बड़ी कार्यवाही कर सकता है।
‘बालाकोट स्ट्राइक को पाक पीएम ने भी माना’
राजनाथ ने कहा, ‘पुलवामा में हमारे बहादुर सुरक्षाबलों के साथ जो हुआ, उसके बाद 56 इंच के सीने वाले हमारे प्रधानमंत्री ने फैसला कर लिया कि ईंट का जवाब पत्थर से देंगे। आपने देखा कि एयरफोर्स के हमारे जवान बालाकोट में जाकर आतंकियों का सफाया करने में कामयाब रहे।’
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के पीएम पहले कहते थे कि कुछ नहीं हुआ है, एक आदमी भी नहीं मरा, अभी POK में खड़े होकर कह रहे थे कि भारत बालाकोट एयर स्ट्राइक से भी बड़ी स्ट्राइक करने के बारे में सोच रहा है। इससे साफ है कि पाक पीएम ने भी स्वीकार कर लिया है कि बालाकोट में भारत ने बड़ी तबाही मचाई थी।
‘370 पर हमारा पड़ोसी दुबला हो रहा’
पाकिस्तान पर अटैक करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि अनुच्छेद 370 समाप्त होने के बाद हमारा एक पड़ोसी है, जो दुबला हुआ जा रहा है। उसका हाजमा खराब हो गया है। अब वह दुनिया के देशों का दरवाजा खटखटा रहा है कि हमें बचा लीजिए। राजनाथ ने कहा कि हमने क्या अपराध कर दिया कि वह धमकी पर धमकी दे रहा है जबकि जिसे लोग दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क मानते हैं अमेरिका, वहां के राष्ट्रपति ने भी कह दिया कि जाओ…भारत के साथ बैठकर बात करो, यहां आने की जरूरत नहीं है।
‘आगे जो भी बात होगी, POK पर होगी’
रक्षा मंत्री ने कहा कि मैं यकीन दिलाना चाहता हूं कि सरकार रहे न रहे, भारत माता का मस्तक झुकने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लोग कहते हैं कि दोनों देशों के बीच बात होनी चाहिए। किस बात पर बात होनी चाहिए? कौन सा मुद्दा है, क्यों बात होनी चाहिए? उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बात तभी होगी, जब वह अपनी धरती से संचालित आतंकवाद को खत्म करेगा। अगर ऐसा नहीं है तो फिर पाकिस्तान से बात करने का कोई कारण नहीं है। राजनाथ ने कहा कि आगे भी जो बातचीत होगी, अब वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर POK पर बात होगी और किसी मुद्दे पर बात नहीं होगी।
राजनाथ सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्वाभिमान के मुद्दों से हमारी सरकार ने समझौता नहीं किया है कि जैसा चल रहा है वैसा ही चलने दें।
उन्होंने कहा, ‘हमने जो कुछ भी अपने चुनावी घोषणा पत्र में कहा था, उसका अक्षरश: पालन कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 था, भारत आजाद हो गया था फिर भी देश में 2 संविधान और दो निशान थे। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब नहीं चलेगा। चुटकी बजाते ही हमने इसे समाप्त कर दिया। लोग कहते थे कि अनुच्छेद 370 को अगर कोई छूने की कोशिश करेगा तो देश बंट जाएगा। लोग कहते थे कि ऐसा हुआ तो बीजेपी फिर कभी सत्ता में नहीं आ पाएगी। मैं कहना चाहता हूं कि बीजेपी केवल सरकार बनाने के लिए राजनीति नहीं करती है, वह देश बनाने के लिए राजनीति करती है।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *