रक्षा मंत्री राजनाथ ने किया HAL की दूसरी LCA प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन

नई दिल्‍ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को बेंगलुरु पहुंचे। उन्होंने यहां हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड HAL के दूसरे Light Combat Aircraft के प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन किया।
डील के तहत वायुसेना को तेजस LCA की डिलीवरी मार्च 2024 में शुरू होगी। रक्षा मंत्री ने इसकी जानकारी अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी। साथ ही उन्होने यह भी बताया कि 3 फरवरी से वहां आयोजित होने वाले एयरो इंडिया शो में भी शामिल होंगे जिसका रिहर्सल बेंगलुरु में आज किया गया। इसमें अमेरिका का एयरक्राफ्ट B1Lancer भी शामिल होगा। भारत में अमेरिकी मामलों को देख रहे डॉन हेफलिन (Don Heflin) ने बताया, ‘इस साल हवाई प्रदर्शन में हमारे अहम एयरक्राफ्ट B-1 Lancer को फीचर किया जाएगा। पहली बार अमेरिका ने एयरो इंडिया में हिस्सा लिया है।’
केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा, ‘आज के उद्घाटन से आत्मनिर्भर भारत का हमारा संकल्प पूरा हुआ है। इससे ये संदेश दुनिया के दूसरे देशों तक चला जाएगा कि तकनीक और उत्पादन के क्षेत्र में हम आत्मनिर्भर बनना चाहते हैं और इसके लिए भारत सरकार बहुत गंभीर है।’
रक्षा मंत्री ने कहा कि ‘तेजस न केवल स्वदेशी है, बल्कि अनेक मानकों पर अपने स्तर के विदेशी लड़ाकू विमानों से कहीं बेहतर है। इन मानकों में इंजन क्षमता, रडार सिस्टम के साथ-साथ कीमत भी है।’
उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में रक्षामंत्री ने कहा कि ‘हम कब तक देश की सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहेंगे, हम लंबे समय तक​ निर्भर नहीं रह सकते। हम सभी का ये संकल्प है जो भी बनाना होगा उसे खुद बनाने की कोशिश करेंगे और सीमा और अपने स्वाभिमान की सुरक्षा करेंगे।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे सूचित किया गया है कि विभिन्न देशों की ओर से तेजस M1A में रुचि दिखाई जा रही है और मैं आपको आश्वासन देता हूं कि अन्य देशों से जल्द ही इसके लिए ऑर्डर मिलेंगे।’
उन्होंने दिल्ली से बेंगलुरु के लिए रवाना होने से पहले लिखा, ‘आज HAL के दूसरे LCA के प्रोडक्शन लाइन उद्घाटन के लिए बेंगलुरु जा रहा हूं और वहां 3 से 5 फरवरी तक आयोजित होने वाले एयरो इंडिया शो में शामिल होउंगा।’
उन्होंने आगे बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुई चुनौतियों के बावजूद शो में लोगों कि हिस्सेदारी प्रोत्साहित करने वाली है। पिछले माह सुरक्षा पर आयोजित कैबिनेट कमेटी की बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। इसमें उन्होंने सबसे बड़े स्वदेशी रक्षा समझौते को मंजूरी दी थी। यह डील 48 हजार करोड़ की है, जिसके तहत 83 LCA तेजस लड़ाकू विमान विकसित किया जाएगा।
पिछले माह ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु स्थित BEML उत्पादन केंद्र का दौरा किया और देश की पहली स्वदेश में विकसित चालक रहित मेट्रो कार का उद्घाटन किया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *