इंग्लिश चैनल में नाव डूबने से 27 प्रवासियों की मौत

ब्रिटेन जाने का प्रयास कर रहे कम से कम 27 प्रवासियों की इंग्लिश चैनल में नाव डूबने से मौत हो गई. ये हादसा फ्रांस के कैले के पास हुआ.
इंटरनेशनल ऑर्गनाइज़ेशन फॉर माइग्रेशन ने कहा कि साल 2014 में डेटा जुटाने की शुरुआत के बाद से यह इस क्षेत्र में होने वाली सबसे बड़ी दुर्घटना है.
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि जो कुछ हुआ उससे वह ‘हैरान’ हैं और ब्रिटेन मानव तस्करी के गिरोहों को रोकने में ‘कोई कसर नहीं छोड़ेगा’.
फ्रांस के गृहमंत्री जेराल्ड डेगमना ने बताया कि मरने वालों में पांच महिलाएं और एक बच्ची शामिल है.
जेराल्ड डेगमना ने ये भी कहा कि दो लोगों को सुरक्षित बचाया गया है और एक शख़्स अब भी गायब है. पहले मिली जानकारी के मुताबिक 31 लोगों की मौत बताई जा रही थी लेकिन बाद में 27 के मरने की पुष्टि हुई.
उन्होंने बताया कि चार लोगों को बेल्जियम की सीमा के पास से गिरफ़्तार किया गया है, “हमें संदेह है कि वे सीधे इस क्रॉसिंग से जुड़े थे.”
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट ने बताया कि बुधवार शाम,बोरिस जॉनसन और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉ ने इस तरह की क्रॉसिंग को रोकने और लोगों की जान जोखिम में डालने वाले गिरोहों पर लगाम लगाने के लिए संयुक्त प्रयास करने पर सहमति व्यक्त की है.
बुधवार की दोपहर एक मछली पकड़ने वाली नाव ने फ्रांस के तट पर कई लोगों के शव देखने के बाद अधिकारियों को सूचित किया था.
फ्रांस और ब्रिटेन के अधिकारी इंग्लिश चैनल पर हवाई और समुद्र रास्तों के ज़रिए बचाव अभियान चला रहे हैं.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *