KD डेंटल कॉलेज के डीन ने विधवा आश्रम में बांटे कम्बल

मथुरा। के. डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल, मथुरा के डीन डॉ. मनेश लाहौरी ने प्रोस्थोडोंटिस्ट दिवस पर मैत्री घर विधवा आश्रम वृंदावन में जरूरतमंदों को कम्बल, फेस मास्क और सैनिटाइजर वितरित किए तथा उन्हें मास्क के महत्व और सैनिटाइजर के उपयोग के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इतना ही नहीं, इस अवसर पर दंत चिकित्सा विशेषज्ञों ने विधवा आश्रम के लोगों को दांतों की साफ-सफाई तथा दांतों के उपचार के बारे में भी समझाया।

खानपान में आए बदलाव और अनियमित दिनचर्या के चलते आज के समय में अधिकांश लोग किसी न किसी तरह की दांतों की परेशानी का सामना कर रहे हैं। लोगों को दांतों की समस्या से निजात दिलाने और उनमें जागरूकता फैलाने के मकसद से ही के. डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल मथुरा के डीन डॉ. मनेश लाहौरी के कुशल मार्गदर्शन में दंत चिकित्सकों और छात्र-छात्राओं ने मैत्री विधवा आश्रम वृंदावन पहुंच कर लोगों को दांतों की साफ-सफाई और उचित देखभाल के उपाय सुझाए।

इस अवसर पर डॉ. प्रियंका जैन सिक्का ने कहा कि हम दांतों की साफ-सफाई पर ध्यान देकर कई अनचाही बीमारियों से बच सकते हैं। मैत्री विधवा आश्रम वृंदावन में छात्र-छात्राओं के बीच साबुन की नक्काशी प्रतियोगिता हुई जिसमें छात्र-छात्राओं ने साबुन पर अपनी कल्पना को उकेरा। छात्र-छात्राओं ने भित्तिचित्र के माध्यम से अपने विचारों को भी दीवारों पर चित्रित किया। इस अवसर पर क्विज, मेमोरी गेम जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। विधवा आश्रम के लोगों को स्वच्छता के उपाय और मास्क पहनने तथा सैनिटाइजर के उपयोग के महत्व के बारे में भी बताया गया।

डीन डॉ. मनेश लाहौरी ने कहा कि बदलती जीवन शैली से बच्चों और वयस्कों में दांतों के रोग काफी अधिक हो रहे हैं। खानपान में आ रहे बदलावों के कारण लोगों में दांतों की बीमारियां लगातार बढ़ रही हैं। रेशेदार खाद्य-पदार्थों की जगह जंकफूड का बढ़ता प्रचलन भी दांतों के लिए अच्छा नहीं है। शीतल पेय, पेस्ट्री, पीजा, बर्गर आदि भी दांतों और मसूड़ों को काफी प्रभावित करते हैं। डॉ. लाहौरी ने कहा कि दांतों की देखभाल हमारे सम्पूर्ण स्वास्थ्य और सेहतमंद रहने का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। परेशानी की बात यह है कि दांतों और मसूड़ों की समस्याओं का एकदम पता नहीं लग पाता इसलिए यह जरूरी है कि हम हर छह महीने में दंत चिकित्सक के पास जाकर दांतों की नियमित जांच करवाएं ताकि हमारे दांत स्वस्थ रह सकें। कार्यक्रम के अंत में केक काटा गया।

इस अवसर पर के. डी. डेंटल कॉलेज के सभी विभागाध्यक्ष, संकाय सदस्य और छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।
– Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *