संदिग्ध समुद्री लुटेरों को डेनमार्क के युद्धपोत ने बीच समुद्र में छोड़ा

पश्चिमी अफ़्रीका के समुद्र तट से छह सप्ताह पहले हिरासत में लिए गए संदिग्ध समुद्री लुटेरों को डेनमार्क के युद्धपोत ने बीच समुद्र में एक छोटी नाव में छोड़ दिया है.
नवंबर में गिनी की खाड़ी में एक घातक गोलीबारी के बाद इन तीनों को हिरासत में लिया गया था.
डेनमार्क के सुरक्षाबलों ने कहा था कि वो इस क्षेत्र में ऐसा देश ढूंढने में नाकाम रहे हैं जो इन कथित लुटेरों को स्वीकार करे.
इस कारण इन संदिग्धों को नाइजीरियाई जलक्षेत्र के क़रीब छोड़ने का फ़ैसला लिया गया था. इनको ख़ाना और ईंधन दिया गया है ताकि वो तट के नज़दीक तक पहुंच सकें.
क्या है मामला
डेनमार्क प्राधिकरण के अनुसार 24 नवंबर को हुई गोलीबारी के दौरान संदिग्धों ने मालवाहक जहाज़ पर हमला किया था. इस दौरान डेनमार्क की सेना जो वहां पर लुटेरों के कारण जहाज़ों की सुरक्षा के लिए तैनात थी उसने चार लोगों को मार दिया था.
डेनमार्क के नौसेनिक जहाज़ ने चार लोगों को हिरासत में लिया था. इन पर डेनमार्क के जवानों पर पहले हमला करने का आरोप था जिसे अभियुक्तों ने ख़ारिज किया था.
इनमें से एक व्यक्ति को घाना भेजा गया था जहां उनकी ज़ख़्मी टांग को काट दिया गया था. इसके बाद उन्हें डेनमार्क भेजा गया जहां पर उन पर हत्या के प्रयास का मामला चलेगा.
डेनमार्क के न्यायिक मंत्रालय ने बताया कि इस एक व्यक्ति को समुद्र में छोड़ना सुरक्षित नहीं था.
बाक़ी तीन पर से मामलों को रद्द कर दिया गया है और उनके वकीलों ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से इस बात की पुष्टि की है.
-एजेंसियां

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *