रिंकू शर्मा मर्डर केस में क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किए 4 और आरोपी

नई दिल्‍ली। राजधानी दिल्ली के रिंकू शर्मा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की बड़ी सफलता हाथ लगी है। क्राइम ब्रांच की टीम ने 4 और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन आरोपियों की पहचान गवाहों के बयान और CCTV फुटेज के आधार पर की गई। मामले में 5 आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका था। अब तक कुल 9 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं।
दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने की है गिरफ्तारी
क्राइम ब्रांच की टीम ने जिन 4 आरोपियों को आज गिरफ्तार किया है उनकी पहचान दीन मोहम्मद पुत्र सलाहुद्दीन, मंगोलपुरी, दिलशान उर्फ आफताब पुत्र दीन मोहम्मद, मंगोलपुरी, फैयाज उर्फ सादरी पुत्र मोहम्मद कमरे आलम, मंगोलपुरी और फैजान उर्फ निराले पुत्र मोहम्मद कमरे आलम मंगोलपुरी के रूप में हुई है। इन आरोपियों में दीन मोहम्मद की उम्र 40 साल और बाकी के आरोपियों की उम्र 21-22 साल है।
परिजनों ने लगाया था आरोप, जय श्रीराम बोलने पर हुई थी हत्या
मृतक रिंकू शर्मा बजरंग दल और बीजेपी की यूथ विंग का सदस्‍य था। रिंकू सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता था। परिजनों का आरोप है कि जय श्री राम बोलने पर रिंकू की हत्या की गई, वहीं दिल्ली पुलिस का कहना है कि हत्या आपसी विवाद की वजह से हुई थी। इसमें किसी तरह का कोई धार्मिक या सांप्रदायिक ऐंगल नहीं है। बाद में मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई थी।
बीजेपी-आप के बीच राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप
दिल्ली में रिंकू शर्मा मर्डर पर जहां लोगों के बीच गुस्सा देखने को मिला था, वहीं इस मुद्दे पर राजनीति भी शुरू हो गई थी। बीजेपी और आम आदमी पार्टी के नेता एक-दूसरे पर आरोप लगाते नजर आए। बीजेपी के सांसद मनोज तिवारी ने रिंकू शर्मा के परिजनों से मुलाकात की थी। तब उन्होंने दिल्ली में एक के बाद एक उन्मादी भीड़ द्वारा की जा रही हिंसा की घटनाओं पर चिंता जताते हुए रिंकू शर्मा की हत्या के मुद्दे पर केजरीवाल की चुप्पी को लेकर भी सवाल उठाया था और केजरीवाल से रिंकू शर्मा के परिवार को भी एक करोड़ रुपये का मुआवजा देने के लिए कहा था। वहीं, दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और विधायक राघव चड्ढा ने कहा था कि आप मांग करती है कि बीजेपी की केंद्र सरकार रिंकू के परिजनों को एक करोड़ की सहायता राशि दे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *