बिगड़ती व्यवस्था पर राज्यपाल के नाम CPI माले ने सौंपा ज्ञापन

मथुरा। भारत की CPI (कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी) लेनिनवादी ने आज प्रदेश व्यापी अभियान के तहत महंगाई, भ्रष्टाचार , बिगड़ती कानून व्यवस्था, मोटर वाहन एक्ट 2019 के विरोध में तथा किसान सम्मान निधि का लाभ सभी वंचित किसानों तक अविलंब पहुंचाने जैसी मांगों के साथ कचहरी परिसर में जुझारू प्रदर्शन किया एवं राज्यपाल के नाम प्रेषित ज्ञापन को सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ।
CPI  M के जिला सचिव कॉमरेड नशीर शाह एडवोकेट ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए कहा कि हाल ही में सुरीर में एक दंपत्ति के द्वारा किया गया आत्मदाह तथा कल कचहरी परिसर में एक व्यक्ति व महिला द्वारा अपनी कार को आग लगाने व गोलीबारी करने जैसी घटनाओं से बिगड़ती कानून व्यवस्था एवं भ्रष्टाचार का स्वरूप उजागर होता है।
वहीं बिजली के दामों में हुई बेतहाशा वृद्धि तथा मोटर वाहन एक्ट 2019 लागू कर ट्रैफिक नियमों के नाम पर आम जनता पर भारी जुर्माना थोपने और आतंक पैदा करने की घटनाओं से पता चलता है कि भारी बहुमत से सत्ता प्राप्त करने वाली भाजपा का एकमात्र उद्देश्य जनता को परेशान करना ही रह गया है।
इसलिए भाकपा माले सरकार की इस तानाशाही और जंगलराज के खिलाफ लगातार संघर्ष करेगी।
अखिल भारतीय किसान महासभा के प्रदेश स्तरीय नेता कॉमरेड नत्थी लाल पाठक ने कहा की 2019 में हुए लोकसभा चुनावों से पहले मोदी जी ने किसानों को सम्मान निधि पहुंचाने के बड़े-बड़े वादे किए थे लेकिन चुनाव के बाद से अब तक अधिकांश किसानों को किसान सम्मान निधि अब तक नहीं मिली है जबकि जिस गाय के नाम पर भाजपा ने आम जनता को भीड़ में तब्दील कर दिया उसी गाय के बड़े-बड़े झुंड किसानों की फसल को लगातार बर्बाद कर रहे हैं लेकिन सरकार का ध्यान आवारा पशुओं की रोकथाम पर कतई नहीं है। अतः हम महामहिम राज्यपाल से निवेदन करते हैं कि वह इन सभी समस्याओं का समाधान करने की दिशा में कोई ठोस कार्यवाही सुनिश्चित करें।
इस प्रदर्शन में भाकपा माले राज्य कमेटी सदस्य व जिला प्रभारी नसीर शाह, किसान महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष साथी नत्थी लाल पाठक, आर वाई ए के प्रदेश उपाध्यक्ष साथी सौरभ चतुर्वेदी, कामरेड अमरवती, कामरेड दुर्गा प्रसाद, साथी विशन चंद अग्रवाल एडवोकेट, पप्पू, सुरेश, गुड्डा, राजेश, शब्बीर शाह, अमर सिंह, राजबहादुर, राजकुमार पाठक, कॉमरेड मुनेश शर्मा, देव कुमार, एडवोकेट, डोरी लाल, चंदन सिंह, और साथी राकेश विचित्र आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *