कोर्ट ने सचिन वाझे की NIA हिरासत 7 दिनों के लिए बढ़ाई

मुंबई। मुंबई के निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाझे को शनिवार को विशेष NIA अदालत में ले जाया गया। यहां अदालत ने सचिन वाझे के भाई सुधराम को पांच मिनट की मुलाकात के लिए अदालत में कपड़े सौंपने की अनुमति दी। इसके बाद मुंबई की विशेष NIA अदालत ने सात अप्रैल तक सचिन वाझे की NIA हिरासत बढ़ा दी है। NIA को वाझे को सभी चिकित्सा सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया। वाझे मनसुख हिरेन की मौत के मामले का आरोपित है।
लगभग 10 दिनों की मशक्कत के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA आखिरकार निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाझे के साथ सीसीटीवी फुटेज में दिखी महिला तक पहुंच गई। गुरुवार की रात NIA ने मुंबई हवाई अड्डे पर उसे हिरासत में ले लिया। बाद में एक टीम ने ठाणे स्थित उसके घर की तलाशी ली और उसके साथ पूछताछ भी की। शुरुआती जानकारी के अनुसार, वह महिला कथित तौर पर मनी लांड्रिंग में शामिल थी। वह नोट गिनने वाली एक मशीन का भी इस्तेमाल करती थी, जिसे NIA ने पिछले महीने मर्सिडीज बेंज से जब्त किया था।
इस कार का इस्तेमाल सचिन वाझे करता था। उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर कार मिलने और मनसुख हिरेन की हत्या मामले में इस महिला का पहलू तब सामने आया, जब 25 मार्च को एक फाइव स्टार होटल के सीसीटीवी फुटेज में वह सचिन वाझे के साथ दिखी। मध्य फरवरी में वाझे इस फाइव स्टार होटल में पांच दिनों तक रुका था। गुरुवार सुबह एनआइए ने एक रेस्तरां पर भी छापेमारी की थी। इस दौरान उसे आधा दर्जन से ज्यादा सिम कार्ड मिले, जिसका इस्तेमाल वाझे करता था। इस बीच शुक्रवार को NIA ने दक्षिणी मुंबई स्थित एक होटल में चल रहे ‘सोशल क्लब’ पर छापेमारी की और इसके मालिक का बयान दर्ज किया।
क्लब मालिक को सुबह लगभग 11 बजे NIA दफ्तर जाते देखा गया। वह शाम 4.50 बजे दफ्तर से बाहर निकला। NIA क्रिकेट बुकी नरेश गोर और निलंबित पुलिस कांस्टेबल विनायक शिंदे के बीच संबंधों की जांच भी कर रही है। इन दोनों को मनसुख हिरेन हत्याकांड में गिरफ्तार किया गया है।
दूसरी तरफ मुकेश अंबानी के आवास के बाहर विस्फोटक लदी कार बरामद होने के मामले में जिम्मेदारी लेने वाले गैंगस्टर की भूमिका की जांच की जा रही है। यह अपराधी इस समय तिहाड़ जेल में बंद है। मुंबई के अंडरव‌र्ल्ड से इसके संबंध रहे हैं और पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के एक अस्पताल में इसका इलाज चल रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *