BEd काउंसलिंग शुल्क में में राजीव एकेडमी देगी रियायत

मथुरा। गुणवत्तायुक्त शिक्षा ही किसी भी शैक्षिक संस्थान की साख और पहचान होती है। बात जब बीएड शिक्षा के तालीम की हो तो ब्रज मण्डल में राजीव एकेडमी का कोई मुकाबला नहीं है। इन दिनों यहां बीएड काउंसलिंग चल रही है, हर वह युवा जो भविष्य में शिक्षक के रूप में समाज की सेवा करने का सपना देख रहा है, वह राजीव एकेडमी में ही प्रवेश की चाह रख रहा है। कोरोना के संकटकाल को देखते हुए राजीव एकेडमी द्वारा छात्र-छात्राओं को शुल्क में रियायत का प्रावधान किया गया है।

इस संबंध में प्रवेश को इच्छुक युवा पीढ़ी का कहना है कि हम लोग यहां के पूर्व छात्र-छात्राओं की सफलता और संस्थान की गुणवत्तायुक्त शैक्षिक प्रणाली की पड़ताल करके ही आए हैं। देखा जाए तो सम्पूर्ण आगरा परिक्षेत्र में राजीव एकेडमी शिक्षा संकाय की डिस्कवरी प्रयोगशाला और अत्याधुनिक कम्प्यूटर प्रयोगशालाएं युवा पीढ़ी के सपनों को पंख लगाती हैं और वे परीक्षाओं में सर्वोच्च अंक प्राप्त कर अपना सर्वांगीण विकास कर सरकारी शिक्षक बनते हैं।

संस्थान के निदेशक डॉ. अमर कुमार सक्सेना का कहना है कि शिक्षक पात्रता परीक्षाओं (UPTET, CTET) के लिए यहां अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं को कुशल मार्गदर्शन मिलता है जिसके चलते प्रतिवर्ष बी_एड. उत्तीर्ण विद्यार्थी शिक्षक पात्रता परीक्षाओं में सर्वोच्च अंक लाते हैं। यहां बीएड. के विद्यार्थियों की इण्टर्नशिप प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थानों में कराई जाती है तथा उनके लिए निःशुल्क रेमेडियन क्लासेस की भी व्यवस्थाएं हैं। यहां सिम्पोजियम, सेमिनार, संगोष्ठियों आदि के माध्यम से भी छात्र-छात्राओं की दक्षता में इज़ाफा किया जाता है। डॉ. सक्सेना का कहना है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रणाली से प्रतिवर्ष बड़ी संख्या में राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलॉजी एण्ड मैनेजमेंट तथा राजीव एकेडमी फॉर टीचर एजूकेशन के शिक्षा संकाय से विद्यार्थी प्राइमरी टीचर, टीजीटी, पीजीटी तथा डायट में लेक्चरर जैसी सरकारी सेवाओं के अवसर हासिल कर रहे हैं।

आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए वर्तमान में बीएड. प्रवेश हेतु चल रही काउंसलिंग में प्रवेशार्थियों को उचित शुल्क रियायत का प्रावधान किया गया है। हम चाहते हैं कि शिक्षा क्षेत्र को ऐसे सुयोग्य स्नातक और परास्नातक मिलें जोकि अपने ज्ञान प्रकाश से भविष्य निर्माण की दिशा तय कर सकें। राजीव एकेडमी में सुयोग्य प्राध्यापकों द्वारा युवा पीढ़ी को वर्तमान शिक्षा जगत की मांग और समाज की जरूरतों के अनुसार शिक्षित-प्रशिक्षित किया जाता है ताकि वह किसी भी क्षेत्र में असफल न हो। डॉ. अग्रवाल का कहना है कि आर.के. एज्यूकेशन हब के प्रत्येक शैक्षिक संस्थान का मुख्य उद्देश्य छात्र-छात्राओं का सम्पूर्ण व्यक्तित्व विकास है।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *