कोरोना राहत कार्यों में जुटे हैं 42 IAF एयरक्राफ्ट: एयर वाइस मार्शल रानाडे

नई द‍िल्ली। कोरोना राहत कार्यों को लेकर वायुसेना द्वारा क‍िए जा रहे प्रयासों पर आज एयर वाइस मार्शल एम रानाडे (Air vice marshal M ranade)  ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोविड राहत कार्यों के लिए IAF ने 42 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट तैनात किए हैं जिसमें 12 हेवी लिफ्ट, 830 मीडियम लिफ्ट वाले हैं। उन्होंने बताया, ‘इसका उपयोग राहत सामग्रियों व अन्य संसाधनों को दूसरे देशों से लाने के लिए किया जाएगा। अब तक हमने ऑक्सीजन के 75 कंटेनर का ट्रांसपोर्ट किया है और यह प्रक्रिया जारी है।

उन्होंने बताया, ‘हमारे क्रू बिना किसी रुकावट अपना काम जारी रखें इसके लिए हम बायो बबल्स का इस्तेमाल कर रहे हैं ताकि वे बाहरी कोई भी एक्सपोजर नुकसान न पहुंचाए।’ एयर वाइस मार्शल मकरंद राणाडे ने बताया, ‘अब तक जो भी काम वायुसेना को सौंपा गया है उसे काफी प्रोफेशनल तरीके के साथ पूरा किया गया है।’

ऑक्सीजन की किल्लत को खत्म करने के लिए वायुसेना के विमान कई घंटे उड़ान भर रहे हैं। देश में खाली कंटेनरों को डिपो तक पहुंचाना हो या विदेशों से क्रायोजेनिक टैंकरों को भारत लाना हो। वायुसेना के जवान इसमें जुटे हुए हैं। वहीं नौसेना भी सप्लाई को सुदृढ़ बनाने के लिए समंदर में मीलों का सफर तय कर रही है। सेना के अस्पतालों को आम लोगों के लिए खोल दिया गया है।

महामारी की दूसरी लहर से संघर्ष कर रहे हमारे देश में मोर्चे पर सेनाएं भी जुटी हैं। इसके मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाल में ही ट्वीट किया था। इसमें उन्होंने लिखा था कि जल, थल और नभ हमारे सशस्त्र बलों ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। प्रधानमंत्री ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के ब्लॉग पोस्ट पर ट्वीट किया था। रक्षा मंत्री ने अपने ब्लॉग में भारतीय सेना, नेवी और एयरफोर्स की सराहना करतेे हुए बताया है कि किस तरह से महामारी के खिलाफ जंग में ये अपना योगदान दे रहे हैं।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *