कोरोना: सबसे कम मृत्‍यु दर वाले देशों में भारत शामिल

नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस के बढ़ते मामले टेंशन जरूर दे रहे हैं मगर उनमें एक अच्‍छी खबर भी छिपी हुई है। भारत कोरोना की सबसे कम मृत्‍यु-दर वाले देशों में शामिल है। रविवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार देश का मॉर्टलिटी (केस फैटलिटी) रेट 1.93% है और यह लगातार घट रहा है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटों में 63,489 नए केस सामने आए और 944 कोविड मरीजों की मौत हुई। भारत में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्‍या 6,77,444 है और अबतक 18,62,258 मरीज ठीक हुए हैं। टोटल केसेज की संख्‍या 25,89,682 हो गई है।
अमेरिका, ब्राजील से कहीं बेहतर स्थिति में भारत
केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय (MoHFW) ने रविवार को जो आंकड़े जारी किए, उसके मुताबिक कोरोना से अब तक 49,980 मरीजों की मौत हुई है। 50 हजार मौतों के आंकड़े तक पहुंचने में भारत को कुल 156 दिन लगे जबकि अमेरिका जहां इस महामारी का सबसे ज्‍यादा प्रकोप है, वहां सिर्फ 23 दिन में 50 हजार मौतें हो चुकी थीं। ब्राजील में 95 दिन के भीतर 50 हजार कोविड मरीजों की मौत हुई तथा मेक्सिको में 141 दिन में। भारत का केस फैटलिटी रेट लगातार कम हो रहा है और वह दुनिया के सबसे कम मॉर्टलिटी रेट वाले देशों में शामिल है।
कम डेथ रेट के पीछे है ये वजह
MoHFW के अनुसार भारत में कम मॉर्टलिटी रेट के पीछे अग्रेसिव टेस्टिंग एक बड़ी वजह है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने रविवार को एक ट्वीट में कहा कि कोरोना केसेज जल्‍दी पकड़ में आने और क्विक आइसोलेशन के चलते भी डेथ रेट कम करने में मदद मिली है। ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल के प्रभावी पालन को भी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय लो मॉर्टलिटी रेट की एक वजह मानता है।
पिछले 24 घंटों के ये हैं आंकड़े
रविवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में 63,489 नए मामले सामने आए हैं। भारत में 7 अगस्‍त के बाद से (11 अगस्‍त को छोड़कर) रोज 60 हजार से ज्‍यादा केसेज आ रहे हैं। अबतक 18,62,258 मरीजों के ठीक होने से देश का रिकवरी रेट 71.91 प्रतिशत हो गया है। टोटल केसेज की संख्‍या 25,89,682 है जिनमें से 49,980 लोगों की मौत हो चुकी है। 944 मरीजों की मौत पिछले 24 घंटों में हुई। देश में एक्टिव कोविड माामलों की संख्‍या 6,77,444 है जो कुल मामलों का 26.16 है। ICMR के अनुसार 15 अगस्‍त तक देश में कुल 2,93,09,703 सैंपल टेस्‍ट किए गए हैं, जिनमें से 7,46,608 टेस्‍ट शनिवार को हुए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *