कोरोना इफेक्‍ट: फिल्म इंडस्ट्री को करीब ढाई हजार करोड़ का नुकसान

मुंबई। दुनिया भर में इस समय कोरोना वायरस अपना कहर बरपा रहा है। सभी इंडस्ट्री इसकी चपेट में आ गई हैं और इसका असर फिल्म इंडस्ट्री पर भी पड़ रहा है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के देखते हुए सरकार ने देशभर में लॉकडाउन घोषित किया। ऐसे में लोगों को सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी सिनेमाघर बंद हैं और इस कारण से कई फिल्में रिलीज नहीं हो पाई हैं।
कोरोना वायरस की चपेट में आईं कई फिल्में
बता दें कि कोरोना वायरस के कारण सबसे पहले 13 मार्च को रिलीज हुई इरफान खान की आखिरी फिल्म ‘अंग्रेजी मीडियम’ चपेट में आई। इसके बाद 24 मार्च को अक्षय कुमार की फिल्म ‘सूर्यवंशी’ और 10 अप्रैल को रणवीर सिंह की फिल्म ’83’ रिलीज ही नहीं हो पाई है। बीते लगभग दो महीने से कोई फिल्म रिलीज नहीं हो पाई है और कम से कम अगले दो महीने तक किसी फिल्म के रिलीज होने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं।
बड़ी हिंदी फिल्मों के लिए ओवरसीज रेवन्यू का महत्व
ट्रेड एनालिस्ट कोमल नाहटा के अनुसार बॉलीवुड को 2500 करोड़ रुपये से ज्यादा के नुकसान होने की आशंका है। उन्होंने एक बातचीत के दौरान बताया कि भारत के समस्याएं अधिक हैं क्योंकि दुनिया भर के सिनेमाघरों को खोलना होगा। बड़ी हिंदी फिल्मों के कुल रेवन्यू में ओवरसीज रेवन्यू बड़ी भूमिका निभाता है।
फिल्म के बजट पर पड़ेगा प्रभाव
कोमल नाहटा ने आगे कहा कि अगर सिनेमाघर फिर से खुलते हैं तो यह संभावना नहीं है कि कमाई एक जैसी होगी। उन्होंने कहा कि चीनी सिनेमाघर सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए टिकट बेच रहे हैं। यदि आप सोशल डिस्टेंसिंग के आधार पर टिकट बेच रहे हैं तो आपको एक सीट छोड़कर टिकट बेचना होगा। इससे 50 पर्सेंट की कमाई होगी और इसका फिल्म के बजट पर प्रभाव पडेगा। उन्होंने बताया कि इस नुकसान के लिए बड़े फिल्ममेकर्स और स्टार्स को अपनी सैलरी कटौती हो सकती है क्योंकि फिल्म के बजट की अधिकतम राशि फिल्मस्टार्स के पास जाती है।
ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो सकती हैं फिल्में
मौजूदा समय की स्थिति को देखते हुए कोई नहीं कह सकता है कि चीजें कब सामान्य होंगी। इसके साथ सवाल यह भी है कि अगर सिनेमाघर खुलते हैं तो क्या लोग फिल्म देखने के लिए आएंगे। ऐसे में खबरें आ रही हैं कि कई फिल्में ‘अंग्रेजी मीडियम’ की तरह ही ओटीटी रिलीज का विकल्प चुन रही हैं लेकिन इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *