सत्ता में रहते कृषि कानून की वकालत कर रही थी कांग्रेस, वीडियो वायरल

नई दिल्‍ली। कृषि कानून के विरोध में किसान आंदोलन का आज भले ही कांग्रेस समर्थन कर रही हो लेकिन जब यूपीए-2 सत्ता में थी तो संसद में कांग्रेस ने किसानों के लिए ऐसे ही कानून का समर्थन किया था।

सदन में तत्कालीन केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा था कि किसानों को उसकी फसल का उचित मूल्य मिलना जरूरी है। 2012 का सिब्बल का यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है।
जब सदन में सिब्बल ने किया था किसान कानून का समर्थन
4 दिसंबर 2012 के लोकसभा की कार्यवाही के दौरान के वायरल वीडियो में सिब्बल सदन में किसानों की फसल के मार्केट में बेचने को लेकर बयान दे रहे हैं। सिब्बल बोल रहे हैं कि जब किसान के पास जब फसल होती है तो उनको मालूम नहीं होता है कि उन्हें किस मार्केट में जाना है। अगर मंडी जाता है तो 35-40 प्रतिशत सामान खराब हो जाता है और इस बीच में 8 लोग कमीशन एजेंट बिचौलिए होते हैं।
किसान के साथ या बिचौलिए के साथ?
उन्होंने कहा कि ये स्टडी की गई है कि बेचारे किसान का जो माल मार्केट में बिकता है उसका केवल 15-17 प्रतिशत किसान को जाता है, बाकी बिचौलियों को चला जाता है। विपक्ष के नेता और विपक्ष दलों को ये तय करना है कि वे किसान के साथ हैं या बिचौलिए के साथ।
सिब्बल बोले थे, किसानों को मिलेगा ज्यादा पैसा
सिब्बल ने इसी चर्चा के दौरान कहा कि इससे किसान को पैसा ज्यादा मिलेगा। कमीशन खत्म हो जाएगा। साथ-साथ तकनीक मिलेगी। कब फसल बोना है, कितना पानी देना, कितना खाद देना है और किसानों के उत्पाद का श्योर खरीदार मिलेगा क्योंकि उसका प्री प्राइसिंग बाइंग एग्रीमेंट में खरीदार के साथ समझौता हो जाएगा। इससे किसान को ज्यादा पैसा मिलेगा। आम किसान को यह पता नहीं है कि उसे कब बाजार जाना है। उसको पता नहीं कि मैं कब बेचूंगा। इस बीच 35-40 प्रतिशत जो वह बोता है वह खराब हो जाता है।
राहुल गांधी कर रहे हैं किसान आंदोलन का समर्थन
बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी किसान आंदोलन के मुद्दे पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को घेर रहे हैं। वह किसान आंदोलन को लेकर कई ट्वीट कर चुके हैं। एक ट्वीट में उन्होंने मोदी सरकार को घेरते हुए लिखा था, ‘ #IamWithFarmers (मैं किसानों के साथ हूं) हैशटैग के साथ ट्वीट कर सीधे-सीधे पीएम मोदी को चेतावनी दी- जब-जब अहंकार सच्चाई से टकराता है, पराजित होता है।’ हालांकि बीजेपी ने पलटवार करते हुए राहुल पर हमला बोला था। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी तंज कसते हुए कहा था कि हम कांग्रेस नहीं हैं जो किसानों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दें। आइए बात कीजिए, कोई भ्रम है तो दूर कीजिए। सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए हमेशा खुले हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *