राहुल गांधी के करीबी कांग्रेस सांसद राजीव सातव की कोरोना से मौत

पुणे। कोरोना वायरस ने कांग्रेस से राज्यसभा सांसद राजीव सातव की जान ले ली। उनका इलाज महाराष्ट्र के पुणे अस्पताल में चल रहा था। रविवार तड़के उनके निधन की सूचना दी गई। राजीव सातव कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बेहद करीबी माने जाते थे। राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने राजीव के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
कांग्रेस के सांसद राजीव सातव 22 अप्रैल को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। उन्हें पुणे के जहांगीर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां पर उनकी हालत बिगड़ती गई और फिर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया।
कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई लेकिन…
कुछ दिनों के लिए वेंटिलेटर पर रहने के बाद उनकी धीरे-धीरे तबीयत में सुधार आ रहा था। उनकी कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिव आई थी। उस वक्त डॉक्टरों ने कहा था कि सातव स्वस्थ्य हैं और जल्द ही उन्हें अस्पताल में छुट्टी दे दी जाएगी।
डॉक्टरों ने बताया निमोनिया
अस्पताल से छुट्टी से पहले ही राजीव की तबीयत फिर से खराब हो गई। सांसद को फिर से वेंटिलेटर पर रखना पड़ा है। कोरोना निगेटिव होने के बाद भी उनको निमोनिया की शिकायत पाई गई।
साइटोमेगालो नाम का पाया गया वायरस
जालना में शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया था कि सातव धीरे-धीरे ठीक हो रहे थे, लेकिन उनका स्वास्थ्य दोबारा खराब हो गया और अब उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। डॉक्टरों को पता चला है कि वह साइटोमेगालो वायरस से संक्रमित हो गए हैं। इस मामले में विशेषज्ञों की सलाह ली जा रही है।
मिलने जाने वाले थे स्वास्थ्य मंत्री
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि वह राजीव सातव की सेहत का हाल जानने के लिए रविवार को पुणे के जहांगीर अस्पताल जाएंगे। हालांकि उससे पहले ही उनके निधन की सूचना आई। राजीव के निधन पर कांग्रेस के आधिकारिक अकाउंट से ट्वीट करके शोक व्यक्त किया गया।
रणदीप सुरजेवाला ने किया ट्वीट
राजीव सातव के निधन की सूचना पर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘निशब्द ! आज एक ऐसा साथी खो दिया जिसने सार्वजनिक जीवन का पहला कदम युवा कांग्रेस में मेरे साथ रखा और आज तक साथ चले पर आज… राजीव सातव की सादगी, बेबाक़ मुस्कराहट, ज़मीनी जुड़ाव, नेत्रत्व और पार्टी से निष्ठा और दोस्ती सदा याद आएंगी। अलविदा मेरे दोस्त ! जहां रहो, चमकते रहो !!!’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *