सीएम के आदेश: यूपी के सभी मॉल्स बंद व लखनऊ, नोएडा व कानपुर होंगे सैनिटाइज

लखनऊ। आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी को लेकर प्रदेश के सभी शॉपिंग मॉल को बंद करने के साथ ही लखनऊ, कानपुर व नोएडा को सैनिटाइज करने का आदेश दिया है।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए पूरी सावधानी बरतना आवश्यक है। इसको ध्यान में रखते हुए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रबंधों के क्रियान्वयन में जन सहयोग की बड़ी भूमिका है। उन्होंने सभी धर्माचार्यों एवं धर्मगुरुओं से कोरोना वायरस के नियंत्रण के लिए समाज में जागरुकता फैलाने की अपील की है। इस दिशा में विभिन्न धर्म गुरुओं द्वारा की गई पहल का उन्होंने स्वागत किया है।

राज्य की सीमा पर सघन चेकिंग सुनिश्चित करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों सहित राज्य की सीमा पर सघन चेकिंग सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मॉल्स बंद करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि सभी धार्मिक, आध्यात्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं मांगलिक गतिविधियों/कार्यक्रमों को 2 अप्रैल तक स्थगित कर दिया जाए। वैवाहिक कार्यक्रमों में आमंत्रितों की संख्या को 10 तक सीमित रखने का प्रयास हो।

उन्होंने कहा कि लखनऊ, नोएडा और कानपुर शहर को सैनिटाइज किया जाएगा। नगर विकास विभाग द्वारा शहरी इलाकों में नियमित फॉगिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। स्कूलों व कॉलेजों को पूरी तरह बंद रखा जाएगा। स्कूलों व कॉलेजों के प्रबंधक यह सुनिश्चित करें कि 2 अप्रैल तक प्रधानाचार्य, शिक्षकगण एवं नॉन-टीचिंग स्टॉफ भी विद्यालय नहीं आएंगे।

आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी व कालाबाजारी पर होगी कड़ी कार्रवाई

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में खाद्यान्न सहित रोजमर्रा के इस्तेमाल की सामग्री की पर्याप्त उपलब्धता है। सभी जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी व कालाबाजारी न होने पाए। ऐसा करने वालों के विरुद्घ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कड़ी कार्यवाही की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि खरीददारी के दौरान लाइनें न लगें। कोरोना से बचाव के लिए ग्लव्स व मास्क का इस्तेमाल किया जाए।

निजी क्षेत्र के संस्थानों एवं नियोक्ता कर्मचारियों का घर से ही काम करना सुनिश्चित करें

योगी ने कहा कि निजी क्षेत्र के संस्थानों एवं नियोक्ता कर्मचारियों का घर से ही काम करना सुनिश्चित करें। इस व्यवस्था को सरकारी सिस्टम में भी लागू किया जाएगा। तहसील दिवस, समाधान दिवस, मुख्यमंत्री आरोग्य मेला और जनता दर्शन का आयोजन दो अप्रैल तक स्थगित किया गया है साथ ही पुलिस को पेट्रोलिंग करने का निर्देश देते हुए लोगों को एक जगह पर इकट्ठा न होने देने का आदेश दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सरकारी अस्पतालों में केवल आकस्मिक सेवाएं प्रदान की जाएं। 31 मार्च तक गैरजरूरी ओपीडी व जांच को स्थगित किया जाए जिससे कि अस्पतालों में अनावश्यक भीड़ न हो।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *