नोएडा में बोले CM योगी, हमारी प्राथमिकता है गांवों में संक्रमण रोकना

नोएडा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार सुबह गौतमबुद्ध नगर, मेरठ और गाजियाबाद जिलों के दौरे पर पहुंचे हैं। सीएम रविवार सुबह गौतम बुद्ध नगर जिला पहुंचे और उन्होंने मीडियाकर्मियों के लिए लगाए गए टीकाकरण शिविर का निरीक्षण किया। सीएम योगी ने यहां मीडिया से बात करते हुए कहा कि यूपी में तेजी से टीकाकरण कराया जा रहा है। हमारी प्राथमिकता गांवों में संक्रमण रोकना है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में आने वाले वक्त में युद्ध स्तर पर टीकाकरण कराया जाएगा।
सीएम ने कहा कि प्रदेश में ग्रामीण इलाके के लोग कोरोना का टेस्ट कराने से परहेज कर रहे हैं इसलिए गांवों में टेस्ट टीमों को भेजा जा रहा है। प्रदेश में रैपिड रेस्पॉन्स टीम का गठन किया गया है और ये टीम गांवों में जाकर लोगों का टेस्ट कर रही है। ऐसे अभियान में 3 लाख से अधिक टेस्ट किए गए हैं और ऐसे लोगों को मेडिकल किट भी दी गई है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर को रोकने की तैयारी की गई है और इसके लिए हर जिले में इंतजाम कराए जा रहे हैं।
रविवार सुबह पहुंचे सीएम
इससे पहले मुख्यमंत्री हिंडन हवाईअड्डे से हेलीकॉप्टर के जरिए बॉटेनिकल गार्डन हेलीपैड पर उतरे और वह वहां से कार के जरिए सेक्टर छह स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र पहुंचे। आदित्यनाथ ने यहां मीडिया कर्मियों के लिए लगाए गए टीकाकरण शिविर का निरीक्षण किया। इसके बाद वह सेक्टर 16ए स्थित एनटीपीसी सभाकक्ष में जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक के लिए रवाना हो गए। वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों का भी दौरा करेंगे।
जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे सीएम
मुख्यमंत्री इन जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी स्थिति का जायजा लेंगे और संक्रमण की रोकथाम के लिए की जा रही कार्यवाही की समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री इस दौरान पुलिस, जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे।
सभी 75 जिलों में महिला और बच्चों के लिए अलग से बनेंगे ICU कोविड वार्ड
कोरोना की दूसरी लहर के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने तीसरी लहर से निपटने की तैयारी भी शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि एक्सपर्ट्स ने आशंका जाहिर की है कि तीसरी लहर में बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं। इसको देखते हुए प्रदेश के सभी 75 जिलों के अस्पतालों में महिलाओं और बच्चों के लिए अलग से ICU कोविड वार्ड तैयार करवाए जा रहे हैं। बच्चों के लिए इन अस्पतालों में अलग से पिडियाट्रिक विभाग भी होंगे।
योगी आदित्यनाथ ने ये बातें गौतमबुद्ध नगर में कहीं। वे पश्चिमी इलाकों का रिव्यू करने के बाद मीडिया से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को देखते हुए हर जिले के अस्पतालों में इलाज की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए सोमवार से सभी जिला अस्पतालों के डॉक्टर्स को ट्रेनिंग दी जाएगी।
दूसरी लहर 50 गुना ज्यादा मामले आए
सीएम योगी ने कहा कि कोरोना के पहले फेज के मुकाबले दूसरे फेज में 30 से 50 गुना ज्यादा मामले सामने आए हैं। हालांकि, उत्तर प्रदेश सरकार इसे काफी हद तक रोकने में सफल रही है। बोले, एक्सपर्ट्स ने प्रदेश में 25 से 15 मई के बीच पीक आने की बात कही थी। इस दौरान आशंका जताई गई थी कि यूपी में हर रोज एक लाख से ज्यादा केस सामने आएंगे, लेकिन सरकार ने इसे रोक लिया।
उन्होंने कहा कि 24 अप्रैल को सबसे ज्यादा 38 हजार 55 पॉजिटिव केस आए थे। इसके बाद से इसमें गिरावट होने लगी। इसी तरह 30 अप्रैल को सर्वाधिक 3 लाख 10 हजार एक्टिव केस थे। आज ये घटकर 1 लाख 63 हजार रह गया है।
इन 23 जिलों में कल से 18+ के लोगों का वैक्सीनेशन
अभी तक प्रदेश के 18 जिलों में 18+ उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू हुआ था। रविवार को इसमें 5 नए जिले भी जोड़ दिए गए हैं। इनमें मीर्जापुर, बांदा, गोंडा, आजमगढ़ और बस्ती शामिल हैं। यह वे मंडलीय मुख्यालय हैं, जिनमें 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण अभी शुरू नहीं हो पाया था।
इसके पहले लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, मेरठ, बरेली, नोएडा, गाजियाबाद, प्रयागराज, अलीगढ़ समेत 18 जिलों में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *