CM योगी ने देवबंद में ATS कमांडो ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास किया

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ मंगलवार को सहारनपुर दौरे पर पहुंचे. सीएम योगी ने सहारनपुर के देवबंद में आतंकवाद निरोधक दस्ता (ATS) कमांडो ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास किया. देवबंद में एटीएस और कमांडो ट्रेनिंग सेंटर बनने से आतंकवादी गतिविधियों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी. यहां से कमांडो को ट्रेंड करके देश के दुश्मनों से निपटने के लिए तैयार किया जाएगा.
देवबंद की दुनियाभर में है प्रसिद्धि
देवबंद की ऐतिहासिक और धार्मिक महत्ता को देखें तो यह काफी अहम शहर है. देवबंद में त्रिपुर बाला सुंदरी देवी का मंदिर है. यहां राधा बल्लभ का भी ऐतिहासिक मंदिर है. देवबंद में मदरसा दारुल उलूम है. दुनियाभर के मुस्लिम एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में मदरसा दारुल उलूम का खास स्थान है. देवबंद को लेकर खुफिया-सुरक्षा एजेंसियां एक्टिव रहती हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो देवबंद के दारुल उलूम में दुनियाभर के युवक रहते हैं. यहां अफगानिस्तान समेत पड़ोसी देशों के युवक भी आते हैं.
एटीएस के लिए 2,000 वर्ग मीटर जमीन
देवबंद में एटीएस के निर्माण के लिए 2000 वर्ग मीटर जमीन आवंटित की गई है. यह लखनऊ के एटीएस से अलग है. देवबंद उत्तराखंड और हरियाणा की सीमा पर है. यहां बन रहे एटीएस और कमांडो ट्रेनिंग सेंटर का महत्व काफी है. सहारनपुर में कमांडो ट्रेनिंग सेंटर भी खोले जाएंगे. इन कमांडो को आतंकियों को परास्त करने के लिए ट्रेंड किया जाता है. कमांडो का चयन पुलिस और पीएसी से होता है.
प्रदेश में एटीएस की खुलेगी 12 यूनिट
देवबंद कई बार आतंक से जुड़ी गतिविधियों के कारण सुर्खियों में रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो 22 फरवरी 2019 को देवबंद के खानकाह मोहल्ला के छात्रावास से एटीएस की टीम ने दो कश्मीरी छात्रों को पकड़ा था. उन पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप था. प्रदेश में एटीएस की 12 नई यूनिट खुलेंगी. इसमें ग्रेटर नोएडा, बहराइच, आजमगढ़, अलीगढ़, श्रावस्ती, मेरठ, मिर्जापुर, कानपुर में जमीन आवंटित की गई है. वाराणसी और झांसी में जमीन आवंटन का काम जारी है.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *