Alan Friedman की पुस्तक का दावा, ट्रंप भारत के ल‍िए भी खतरा बनते जा रहे हैं

न्यूयॉर्क स‍िटी। वरिष्ठ पत्रकार Alan Friedman  ने अपनी नई किताब में ‘खतरे में लोकतंत्र: डॉनल्ड ट्रंप का अमेरिका’ (‘Democracy In Peril: Donald Trump’s America’) में दावा किया है क‍ि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए दोधारी तलवार साब‍ित हो सकते हैं । ट्रंप जिस तरह से ट्रेड वॉर की राह पर बढ़ चले हैं और जिस तरह से अमेरिका को बहुपक्षीय अंतरराष्ट्रीय करारों से अलग कर रहे हैं, वह भारतीय हितों में फ‍िट नहीं बैठता।

Alan Friedman  पत्रकार‍िता के अलावाटेलीव‍िजन प्रोड्यूसर व डॉक्यूमेंटरी फ‍िल्ममेकर भी हैं ।

फ्राइडमैन ने अपनी पुस्तक ‘खतरे में लोकतंत्र: डॉनल्ड ट्रंप का अमेरिका’ (‘Democracy In Peril: Donald Trump’s America’) में यह भी कहा है कि ट्रंप भारत के लिए, ‘दोधारी तलवार’ साबित हो सकते हैं। वे लिखते हैं ‘एक तरफ, वह मेरे दुश्मन के दुश्मन बने हुए हैं, लेकिन दूसरी ओर, वह ऐसे शख्स भी हैं जो खतरनाक और आवेग में आकर फैसला लेता है और इसके बारे में कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता।’

पत्रकार ने किताब में लिखा , ‘ट्रेड वॉर और दशकों तक वैश्विक व्यवस्था को कायम रखने वाले बहुपक्षीय अंतरराष्ट्रीय संधियों से ट्रंप का पीछे हटना भारत के लिए हितकारी नहीं होगा। भारत के लिए वह उससे भी बड़ा घातक हैं जितना वे लगते हैं।’ उन्होंने इस किताब में अमेरिका में खतरनाक असमानता का भी जिक्र किया है। उन्होंने बताया है कि अमेरिका में एक तरफ वॉल स्ट्रीट अत्यधिक समृद्धि को दिखाता है तो दूसरी तरफ देश में गरीबी भी बढ़ रही है। साथ ही उन्होंने अपनी किताब में नस्लवाद से लेकर हथियार नियंत्रण और ओबामाकेयर जैसे उन मुद्दों पर भी गहराई से लिखा है। उन्होंने इसे अमेरिका में ध्रुवीकरण के जिम्मेदार बताया है।

लेखक का कहना है कि ट्रंप के कार्यकाल का सबसे असाधारण पहलू यह है कि यह एकदम टीवी रियलटी शो के फॉर्मेट जैसा लगता है। उनके अनुसार, ट्रंप ने ट्वीट को 21 वीं सदी की अमेरिकी राजनीति से जनता का ध्यान भटकाने वाला ‘हथियार’ बना दिया है, क्योंकि उन्होंने अपने ही प्रशासन के दर्जनों पदाधिकारियों को बगैर सोचे समझे निकाल दिया और अक्सर आक्रामक अंदाज में ट्वीट कर इसका ऐलान किया।

-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *