अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल के ताइवान दौरे से चीन बौखलाया, फायर ड्रिल शुरू की

पेइचिंग। अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल के ताइवान दौरे से बौखलाए चीन ने दक्षिणी चीन सागर में लाइव फायर ड्रिल शुरू की है। इस ड्रिल में चीनी नौसेना के साथ कोस्ट गार्ड के जहाज भी हिस्सा ले रहे हैं। छह दिनों तक चलने वाले चीन के इस युद्धाभ्यास का असली मकसद अमेरिका और ताइवान को चेतावनी देना है। इसमें चीनी नौसेना का एयरक्राफ्ट कैरियर भी हिस्सा ले रहा है।
ताइवान के नजदीक शक्ति प्रदर्शन कर रहा चीन
चीन के ग्वांगडोंग मैरीटाइम सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन ने बताया है कि ताइवान स्ट्रेट में पेनघू द्वीपसमूह के दक्षिण में छह दिनों के लिए अन्य सभी नौकाओं के जाने पर पाबंदी लगाई गई है। इस इलाके में नौसेना के युद्धपोत, लड़ाकू विमानों और पनडुब्बियों के साथ हथियारों को फायर कर रहे हैं। इस युद्धाभ्यास का समापन मंगलवार को किया जाएगा।
अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल से मिलीं ताइवानी राष्ट्रपति
गुरुवार सुबह ही ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग वेन ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की है। इस प्रतिनिधिमंडल में पूर्व अमेरिकी सीनेटर क्रिस डोड और पूर्व उप सचिव रिचर्ड आर्मिटेज के साथ जेम्स स्टाइनबर्ग भी शामिल हैं। इन नेताओं को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का खास समझा जाता है। बताया जा रहा है कि जो बाइडन ने इन नेताओं को ताइवान के प्रति अमेरिका की प्रतिबद्धताओं को प्रदर्शित करने के लिए भेजा गया है।
अमेरिकी विदेश मंत्री ने चीन को दी थी चेतावनी
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने ताइवान पर हमला करने की सोचने को लेकर चीन को चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा कि चीन की आक्रामक कार्रवाई हमारे लिए वास्तविक चिंता का विषय है। ब्लिंकेन ने जोर देकर कहा कि ताइवान के पास चीन को जबाव देने के लिए पूरी क्षमता मौजूद है। अमेरिका भी पश्चिमी प्रशांत में शांति और सुरक्षा कायम करने के लिए प्रतिबद्ध है।
ताइवान बोला, अंतिम सांस तक लड़ेंगे
ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा है कि हम बिना किसी सवाल के खुद का बचाव करने के लिए तैयार हैं और अगर हमें युद्ध लड़ने की जरूरत है तो हम आखिरी सांस तक लड़ेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अगर आखिरी तक हमें खुद के लोगों की रक्षा करनी पड़ी तो हम उससे भी पीछे नहीं हटेंगे। ताइवानी विदेश मंत्री के इसी बयान से चीन चिढ़ा हुआ है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *