सुप्रीम कोर्ट से चिदंबरम को कई झटके, याचिका को भी अनावश्‍यक करार दिया

नई दिल्‍ली। कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को पिछले हफ़्ते बुधवार को भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ़्तार किया गया था। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट से उन्हें एक साथ कई झटके लगे। सीबीआई की हिरासत को उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी जो सोमवार को सुनवाई के लिए लिस्ट में शामिल नहीं थी।
चिंदबरम के वकील कपिल सिब्बल से सुप्रीम कोर्ट की एक बेंच ने कहा कि मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई के आदेश पर ही इस याचिका को सुनवाई की लिस्ट में शामिल किया जा सकता है।
इसके साथ ही चिदंबरम ने सीबीआई की गिरफ़्तारी से बचने के लिए एक याचिका दाख़िल की थी। इसे भी सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया।
सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम की इस याचिका को अनावश्यक क़रार दिया। चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया केस में दिल्ली हाई कोर्ट के फ़ैसले को चुनौती दी थी जिसमें अदालत ने अग्रीम ज़मानत देने से इंकार कर दिया था।
कोर्ट ने कहा कि गिरफ़्तार होने के बाद चिदंबरम की याचिका बेकार हो गई है। कोर्ट ने कहा कि सीबीआई से जुड़ी याचिका पर इस चरण में सुनवाई नहीं होगी।
‘गिरफ्तारी के बाद याचिका पर सुनवाई नहीं’
जस्टिस भानुमति की पीठ ने कहा कि गिरफ्तारी के बाद याचिका पर सुनवाई नहीं हो सकती है। पीठ ने कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट के पहले का फैसला है। कोर्ट ने कहा कि अगर चिदंबरम को सीबीआई मामले में राहत चाहिए तो उन्हें निचली अदालत में जाना होगा और वहीं से राहत की मांग करनी होगी।
रेग्युलर बेल के लिए निचली अदालत जाएं: SC
शीर्ष अदालत ने कहा कि रेग्युलर बेल के लिए आपको उचित अदालत में जाना चाहिए। अदालत ने कहा कि सीबीआई रिमांड वाली याचिका अब अर्थहीन हो चुकी है।
सिब्बल ने दी कई दलीलें
सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि सीबीआई ने पिछले पांच दिनों में चिदंबरम पर उनके खिलाफ लगाए गए आरोप के बारे में कुछ भी नहीं पूछा है, उनसे सिर्फ विदेशी बैंक खाते के बारे में पूछा गया था, जिससे उन्होंने इंकार कर दिया था। सिब्बल ने कहा कि उनके मुवक्किल से यह भी पूछा गया था कि क्या उनके पास ट्विटर अकाउंट है जो जांच की गंभीरता दर्शाता है। कपिल सिब्बल ने कहा मीडिया ट्रायल किया जा रहा है। जांच एजेंसी बिना सत्यापित जानकारी मीडिया के जरिये दे रही है। अगर एजेंसी एक बैंक अकॉउंट या संपत्ति विदेश में दिखा दें तो हम याचिका वापस ले लेंगे।
बता दें कि दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा INX मीडिया केस में अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज होने के बाद 21 अगस्त को सीबीआई ने चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया था।
अभी सुप्रीम कोर्ट में ईडी की गिरफ़्तारी से बचने के लिए चिदंबरम की याचिका पर सुनवाई चल रही है। चिदंबरम की 5 दिन की रिमांड आज खत्म हो रही है।
चिदंबरम के वकीलों ने कहा कि जब कोर्ट ने उनकी याचिका पर सुनवाई के लिए शुक्रवार को कहा था, उससे पहले सीबीआई ने क्यों गिरफ़्तार किया। चिदंबरम की पाँच दिन की सीबीआई हिरासत आज ख़त्म हो रही है। सीबीआई स्पेशल कोर्ट में हिरासत बढ़ाने की मांग कर सकती है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *