भाजपा में शामिल होने की अटकलों पर चचा शिवपाल का ट्वीट, मैं अखिलेश के साथ

भारतीय जनता पार्टी ने अब समाजवादी पार्टी पर जवाबी पलटवार शुरू कर दिया है। समाजवादी पार्टी ने पहले भाजपा सरकार के तीन मंत्रियों को पार्टी में शामिल कराया। इसके बाद भाजपा ने अब मुलायम सिंह यादव के परिवार में सेंधमारी कर दी है। मुलायम परिवार की छोटी बहू अपर्णा यादव को पार्टी में शामिल करा लिया गया है। इसके बाद शिवपाल यादव के भी भाजपा में शामिल होने की चर्चा शुरू कर दी गई। इस पर शिवपाल यादव ने ट्वीट कर सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि मैं अखिलेश यादव के साथ हूं।
उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने अपना बदला लेना शुरू कर दिया है मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव को पार्टी में शामिल करा कर बीजेपी ने समाजवादी पार्टी को करारा झटका दिया है। खबर है कि सपा को एक और तगड़ा झटका लगने जा रहा है। अपर्णा के बाद अब चाचा व प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव के भी बीजेपी का दामन थामने की चर्चाएं होने लगी है। हालांकि, शिवपाल यादव ने इन चर्चाओं पर तपाक से ट्वीट के जरिए जवाब देते हुए खबर का खंडन कर दिया है।
शिवपाल यादव ने ट्वीट कर दिया जवाब
प्रसपा मुखिया और विधायक शिवपाल यादव ने ट्वीट कर लिखा कि श्री लक्ष्मीकांत बाजपेयी जी के इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है कि मैं भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकता हूं। यह दावा पूर्णत: निराधार व तथ्यहीन है। साथ ही शिवपाल यादव ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि मैं अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले समाजवादी पार्टी गठबंधन के साथ हूं और अपने समर्थकों से आह्वान करता हूं कि प्रदेश की भाजपा सरकार को उखाड़ कर फेंक दें। प्रदेश में समाजवादी पार्टी के गठबंधन वाली सरकार बनाएं।
बीजेपी नेता ने दिया था बयान
यूपी बीजेपी ज्वाइनिंग कमेटी के चेयरमैन और वरिष्ठ बीजेपी नेता लक्ष्मीकांत बाजपेई के एक बयान के बाद शिवपाल यादव के बीजेपी में शामिल होने की चर्चाओं ने तूल पकड़ लिया था। उन्होंने अपने बयान में कहा शिवपाल यादव को सपा प्रमुख अखिलेश ने झटका दे दिया है और अब वे बीजेपी के संपर्क में हैं। उनके इस बयान के बाद प्रसपा मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने अपना जवाब दिया है।
शिवपाल का अखिलेश से हो चुका है गठबंधन
सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से मतभेदों के बाद शिवपाल सिंह यादव ने अपनी अलग पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बना ली थी। हालांकि, 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर शिवपाल यादव की पार्टी का अखिलेश यादवके बीच रिश्ते बहुत हद तक ठीक हो गए हैं। इसी को लेकर दोनों दलों के बीच आगामी चुनाव को लेकर गठबंधन हो गया है। शिवपाल यादव भी कह चुके है कि अखिलेश यादव से कोई मतभेद नहीं है। उन्होंने अखिलेश यादव को अपना नेता मान लिया है। उन्होंने अपने एक बयान में कहा था कि मैं अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाऊंगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *